ब्रेकिंग न्यूज़ ------>

उन्नाव की प्रेरणा से गरीब कल्याण रोजगार योजना का हुआ जन्म-प्रधानमंत्री

गरीब कल्याण रोजगार अभियान का हुआ शुभारंभ

उन्नाव । प्रधानमंत्री ने उन्नाव जिले के कार्यों की सराहना करते हुए कहाकि कोविड-19 महामारी में क्वारंटाइन किए गए मजदूरों को जहां ठहराया गया था वहीं पर उन्हें प्रथामिक विद्यालय की रंगाई पुताई देकर स्वावलंबी बनाया गया। जिससे वह जीविका के लिए आर्थिक मजबूती पा सकें। यह सराहनीय कदम के साथ-साथ प्रेरणादायक भी है। उन्होंने कहा कि यही से इस योजना का जन्म हुआ। पेंटिंग करने में दक्ष श्रमिक को उनकी योग्यता अनुसार वही रोजगार मुहैया कराया गया जो अन्य प्रदेशों के लिए उदाहरण स्वरूप हैं।

प्रधानमंत्री ने कहा कि मैं आप को एक सीक्रेट बता रहा हूॅ मुझे इस कार्यक्रम की प्रेरणा श्रमिक भाईयों व साथियों की प्ररेणा से क्वाॅरेटाइन के दौरान उ0प्र0 उन्नाव जिले से प्राप्त हुई। जहा एक क्वाॅरेटाइन सेन्टर बनाया गया था। जिसकी सफाई और रंगाई पुताई का कार्य निःशुल्क कर प्राथमिक विद्यालय का सौंदर्यीकरण किया। यह एक सराहनीय पहल है। इसी तरह से अन्य सभी राज्य प्रवासी श्रमिको के योग्यतानुसार रोजगार मुय्हैया कराये ताकि प्रवासी श्रमिको को रोजगार मिल सके। उन्होंने कहा कि प्रवासी श्रमिक अलग-अलग कार्यों में दक्ष है जिनका उपयोग किया जा सकता है।

जिलाधिकारी ने कहा कि ब्लाॅक हसनगंज के प्राथमिक विद्यालय नारायणपुर में लाॅकडाउन के दौरान क्वारेटांइन किये गये प्रवासी श्रमिक कमलेश कुमार, विनोद, अरूण व राजेश जो हैदराबाद से आये हुये थे। यह श्रमिक वाल पेटिंग में दक्ष थे। विद्यालय के स्थिति को देखते हुये उन्होंने ग्राम सचिव व खण्ड विकास अधिकारी से सम्र्पंक कर इन 14 दिनों को उपयोग कर रंगाई पुताई कर सरकार के द्वारा चलाई जा रही विभिन्न योजनाओें जैसे-बेटी बचाओ बेटी पढाओं, स्वच्छ भारत मिशन के तहत स्वच्छता व शौचालय का प्रयोग, शिक्षा को बढावा देने आदि योजनाओं का दिवालों में चित्रों के माध्यम से रंगाई पुताई कर प्राथमिक विद्यालय का सौंदर्यीकरण किया। जिससे उनकी योग्यता निखर कर आयी। इसे देखते हुये अब इनको रोजगार से जोड़ा जायेगा और आर्थिक मजबूती प्राप्त दी जायेगी। इन प्रवासीय श्रमिको को जिलाधिकारी द्वारा स्कूल पर सम्मानित किया गया।

इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी डा0 राजेश कुमार प्रजापति, अपर जिलाधिकारी श्री राकेश सिंह, खण्ड विकास अधिकारी सहित अन्य अधिकारी ध्कर्मचारी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *