ब्रेकिंग न्यूज़ ------>

जिलाधिकारी ने गरीबो को खाना देकर शुभारम्भ किया

उन्नाव। कोरोनावायरस सक्रमंण के कारण प्रदेश व जनपद में लागू लाॅकडाउन को अधिक प्रभावी बनाये जाने के उद्देश्य से शुक्लागंज-कानपुर सीमा का निरीक्षण जिलाधिकारी रवीन्द्र कुमार ने किया। ज्वाला देवी गल्र्स इण्टर कालेज शुक्लागंज में स्थापित किये गये कम्यूनिटी सेन्टर में गरीबो को खाना देकर शुभारम्भ किया।
जिलाधिकारी ने ओम प्रकाश ज्वाला देवी इण्टर कालेज शुक्लागंज में स्थापित किये गये कम्यूनिटी सेन्टर में लॅाकडाउन के दौरान गरीबो असहाय लोगो को खाना पेैकेट देकर उनकी मदद करने का भरोसा दिलाया।
उन्होंने बताया कि जनपद के ग्रामीण क्षेत्रों में भी कम्यूनिटी सेन्टर प्रारम्भ हो गये है। जिस क्षेंत्र से किसी प्रकार की समस्याए आती है। सम्बन्धित क्षेत्रों में तैनात अधिकारियों द्वारा समस्या तत्काल हल करायी जाती है। जनपद में राशन की कमी नही होने पायेगी, इसकी व्यवस्था कर ली गयी है। राइस मिल, फ्लोर मिल मालिकों को निर्देश जारी किये जा चुके है कि किसी भी तरह की स्थिति से निपटने को तैयार रहे। उन्होने बताया कि सब्जी का स्टाक पर्याप्त है। किसी प्रकार की कालाबाजारी न होने पाये इसके लिए जिला स्तरीय अधिकारियों की तैनाती करके स्थिति पर नजरे बनाये हुये है। डोर टू डोर व्यवस्था को और अधिक गतिशील बनाये जाने हेतु शुक्लागंज नगर पालिका के अधिशाषी अधिकारी को कडे निर्देश दिये है कि डोर टू डोर व्यवस्था में एक सरकारी कर्मचारी का होना आवश्यक है यदि किसी प्रकार की शिकायत पायी जाती है तो सम्बन्धित के विरूद्व कठोर कार्यवाही की जायेगी।
जिलाधिकारी ने बताया कि कानुपर-शुक्लागंज बार्डर पर आने जाने वाले प्रत्येक व्यक्ति की कडाई से नियमो का पालन करते हुये आने जाने दिया जाये। जिसका पास बना है वही आ जा सकेगा। कोई भी व्यक्ति लाक डाउन में अनावश्यक बाहर घूमता न पाया जाये इसका पालन कराये जाने हेतु थानाध्यक्ष गंगाधाट को निर्देश जारी किये गये। जिलाधिकारी ने लोगो से अपील की है कि कोई भी व्यक्ति कोरोनावायरस के चलते बाहर न निकले आवश्यक हो तभी बाहर सोसल डिस्टेस में निकले। उन्होने कहा यह बहादुरी नही है कि हम बाहर ही घूमेगें, सावधानी ही बचाव है इसका पालन किया जाना आवश्यक है। उन्होने यह भी बताया कि जो लोग बाहर से आकर गांवध्शहरों में रहने लगे है उनकी सूची तैयार करायी गयी है क्षेत्रीय अधिकारियों को निर्देश दिये गये है कि उनको शासकीय विद्यालयोंध्इण्टर कालेजों में निर्धारित समय सीमा तक रखा जाये, स्वास्थय परीक्षण के उपरान्त ही घरो में रहने की इजाजत दी जाये ताकि कोरोनावायरस संक्रमण से अन्य सदस्यों को होने से बचाया जा सके।
इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक विक्रान्तवीर,उप निदेशक सूचना डा0 मधु ताम्बे आदि उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *