दस अंगुलियां

प्रकाशित वर्ष-1994

प्रकाशित स्थल-गांधीनगर, उन्नाव

प्रेरणा स्त्रोत- स्वतन्त्रता संग्राम सेनानी पुत्र श्रद्धेय गया प्रसाद प्रजापति

प्रकाशक- गायत्री प्रसाद प्रजापति (प्रधान सम्पादक)

स्थापना दिवस- 25 सितम्बर

                समाचार पत्र के सफल संचालन और प्रेरणास्त्रोत के रूप में स्वतंत्रता संग्राम सेनानी पुत्र श्रद्धेय गया प्रसाद प्रजापति जी का नाम सदैव स्मरणीय रहेगा। उन्होंने प्रेरणा दी थी कि लघु स्तर पर समाचार पत्र का प्रकाशन करके ग्रामों, कस्बों में अब नगरों के उन लोगों के लिये यह समाचार पत्र कारगार होगा जो धनाभाव के कारण समाचार पत्रों को खरीदकर पढ़ नहीं सकते हैं। देश में रहने वाले ऐसे लाखों देशवासियों के लिये सपना लेकर इस समाचार पत्र की शुरूआत साप्ताहिक समाचार पत्र के रूप में वर्ष 1994 नवम्बर माह में की गई, और 25 सितम्बर 2014 से दैनिक समाचार के रुप में दस अंगुलियां का प्रकाशन उन्नाव से होने लगा। इस समाचार पत्र का नाम दस अंगुलियां क्यों रखा गया इसके पीछे हमारे प्ररेणास्त्रोत रहे श्रद्धेय गया प्रसाद प्रजापति जी की अपनी सांेच थी कि मानव का सबसे बड़ा मित्र उसकी दस अंगुलियां है। जिसके द्वारा स्वयं निर्माण और राष्ट्र निर्माण में बड़ा योगदान दे सकते हैंै। उनकी यह सांेच को आगे बढ़ाने के लिये साप्ताहिक समाचार पत्र निकालने के साथ दैनिक समाचार पत्र के रूप में 25 सितम्बर वर्ष 2014 में दस अंगुलियां की नींव पड़ी जो आप सभी पाठकों के बीच है। उ0प्र0 के कवियों और लेखकों की तपोस्थली जनपद उन्नाव से दस अंगुलियां हिन्दी दैनिक समाचार पत्र का प्रकाशन शुरू हुआ। अब सीमित क्षेत्र न रहकर अपने सीमित संसाधनों से विस्तारित करते हुए उ0प्र0 के कई जिलों जैसे लखनऊ, रायबरेली, प्रयागराज, कौशांबी, कानपुर, फतेहपुर, हमीरपुर, बांदा, जालौन आदि दर्जनों जनपदों में पाठकों की मांग पर प्रसारित होने लगा है। समाचार पत्र पूरे देश और प्रदेश के नागरिकों द्वारा पढ़े जाने लगा। इसके लिए समय के साथ वेबसाइट के माध्यम से पाठकों को समाचार पढ़ा रहे हंै। पिता श्रद्धेय गया प्रसाद जनसेवा पर विश्वास रखते थे। आज उनकी प्रेरणा से समाचार पत्र कम मूल्य पर जनसेवा की जा रही है। यह पत्र ढाई दशक से अधिक समय से अनवरत पाठकों को समाचार पढ़ा रहा है। आशा है यह जनसेवा समाचार पत्र के माध्यम से पाठकांेे केे बीच चलती रहेगी। 

                गायत्री प्रसाद प्रजापति

                   प्रधान सम्पादक