हमीरपुर

बुन्देलखण्ड नवर्निमाण सेना की माँग को आलाधिकारियों ने माना, अनशन समाप्त

मौदहा हमीरपुर। पेयजल समस्या को लेकर शुरू हुये आमरण अनशन के आज दूसरे  दिन अनशनकारियों के समर्थन में अधिवक्ता संघ खुलकर सामने आ गया।  अनशनकारियों ने कहा कि जब तक पानी की व्यवस्था शुरू नहीं की जाती वह  अपना अनशन जारी रखेंगे। उधर मुख्य विकास अधिकारी सहित विकास विभाग व  जल निगम तथा जल संस्थान तथा उपजिलाधिकारी ने कई गांवों में पानी मुहैया  कराने के लिये युद्ध स्तर पर कार्य भी शुरू करा दिये हैं । बीती 10 जून से बुंदेल खण्ड नव निर्माण सेना के अध्यक्ष विनय तिवारी व उनके सहयोगी आदित्य प्रजापति,  चन्द्र किशोर ओमर, लखन गोयल, अनशन पर डटे हुये हैं। हालांकि भीषण गर्मी व  लू के थपेडो के बीच इस समय आमरण अनशन बेहद कठिन है और यही वजह है  कि प्रशासन अनशन समाप्त कराने के लिये अनशनकारियों की मांग पर त्वरित गति  से पानी देने के छोटे छोटे कार्यो को अंजाम देने मे लगा है।

आज सुबह अनशनकारियों के समर्थन अधिवक्ता संघ के अध्यक्ष अब्दुल कुद्दूस,  अधिवक्ता बाबूराम मिश्रा, वशी अहमद, आलोक निगम, छोटेलाल यादव, कृष्ण कुमार,  सौरभ तिवारी, राकेश मोहन दीक्षित, आदि अनशन स्थल पर बैठे और अनशनकारियों  का हौसला बढ़ाया। जबकि कल आमरण अनशन शुरू होते ही सपा के जिलाध्यक्ष  इदरीश खान, पार्टी के वरिष्ठ नेता डां0 मनोज प्रजापति, शाकिर खान, ओमप्रकाश  सोनकर वारसी, चैधरी जुबैर, देवेन्द्र यादव, नगर सपा अध्यक्ष मुईनउद्दीन, सहित  अन्य सपा नेता ने वहां पहुंचकर न सिर्फ उनका समर्थन किया बल्कि इनके साथ  पानी की लड़ाई में आर पार के सहयोग का विश्वास भी दिलाया। आज भी कुछ  सपाई अनशन स्थल पर पहुंचे। वहीं पेयजल किल्लत से पीड़ित गफूराबाद मोहल्ले  की एक दर्जन से अधिक महिलायें अनशन स्थल पर मौजूद रही।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *