प्रयागराज

मंदिरों पर साफ-सफाई, बिजली, पानी की समुचित व्यवस्था की जाय-जिलाधिकारी

उमाशंकर प्रजापति

प्रयागराज। जिलाधिकारी प्रयागराज भानुचंद्र गोस्वामी की अध्यक्षता में कावंड मेला तैयारियों की समीक्षा करने के लिए बैठक की, जिसमें ए0डी0एम0 वित्त एम0के0 सिंह, ए0डी0एम सिटी- अशोक कुमार कनौजिया, ए0डी0एम0 प्रशासन वी0एस0 दूबे सहित पुलिस के अधिकारियों के साथ एस0डी0एम0 और मजिस्टेªट तथा पुलिस विभाग के अधिकारी मौजूद थे।

                जिलाधिकारी ने कहा कि कावंड मेला को सकुशल सम्पन्न कराने के लिए जिन मजिस्टेªटों और पुलिस के अधिकारियों की ड्यूटी लगायी गयी है, वे समय पर अपने ड्यूटी स्थल पर पहुंचे। उनकी ये जिम्मेदारी होगी कि मंन्दिर परिसर में कोई दुकान इत्यादि न हों तथा प्रत्येक मन्दिर पर दिशा सूचक लगा हो, उसी के अनुसार श्रद्धालु दर्शन एवं पूजन करे। मजिस्टेªट तथा पुलिस आपस में समन्वय बनाकर कार्य करें। ड्यूटी पर तैनात पुलिस कर्मी अपना व्यवहार संयमित रखे। किसी के साथ दुव्र्यहार न करें।

जिलाधिकारी ने प्रत्येक मन्दिरों पर साफ-सफाई की व्यवस्था हेतु एक सुपरवाइजर सहित सफाई कर्मी ड्यूटी पर मौजूद रहेंगे। साफ-सफाई की व्यवस्था उच्च कोटि की होनी चाहिए। कहीं पर भी गन्दगी इत्यादि नहीं मिलनी चाहिए। जनपद में कुल 26 मंन्दिरों पर पुलिस और मजिस्टेªट की तैनाती की गयी है। कावंड़ियों के मार्गों को सुचारू बनाना तथा विभिन्न शिवालयों पर एक मंदिर पर दो प्रभारी ड्यूटी पर रहेंगे।  24 घण्टे की ड्यूटी लगायी गयी है। दो पाली में प्रवेश द्वार पर अलग से ड्यूटी लगायी गयी है तथा किसी भी दशा में निकासी मार्ग से प्रवेश नहीं कराया जायेगा। इसी के क्रम में इसका पूरा लेआउट तैयार किया गया है। उसमें पूरी व्यवस्था को दर्शाया गया है। सभी मजिस्टेªट व पुलिस अधीक्षक इसको मंदिरों में जाकर देख ले और उसी के अनुसार व्यवस्था सुनिश्चित करें। जल निगम को पानी की व्यवस्था हेतु निर्देशित किया गया है। पानी की समुचित व्यवस्था होनी चाहिए तथा सोफिट आदि लगा हो, जिससे की घाटों में फिसलन की स्थिति न उत्पन्न हो। मन्दिर परिसर के अन्दर और 100 मीटर की दूरी पर आने वाले बिजली के पोलों पर कोटिंग करने के निर्देश विद्युत विभाग के अधिकारियों को दिया। इस कार्य में किसी भी प्रकार की लापरवाही कत्तई बर्दाश्त नहीं की जायेगी। इस कार्य को मन्दिर प्रशासन से समन्वय बनाकर किया जाये। प्रत्येक घण्टे पर फोटोग्राफ्स सहित लोकेशन वाट्सअप के माध्यम से भेजने का निर्देश दिया गया है तथा बैठक में जो भी मजिस्टेªट या पुलिस कर्मी बिना बताये अनुपस्थित है, उनकी सूची तलब कर उनका वेतन रोकने के निर्देश दिये गये है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *