हमीरपुर

खेत खलिहानों से लेकर हाइवे तक अन्ना जानवरों का कहर

हमीरपुर। जनपद के भरुआ सुमेरपुर में अन्ना जानवरों का आतंक आए दिन बढ़ता ही जा रहा है गाँव की गालियों एवं खेत खलिहानों से निकल कर अब नेशनल हाइवे तक आ गया है।हाइवे से गुजरते समय हाइवे पर कर्फ्यू जैसे हालात बन जाते हैं। चारांे तरफ अन्ना गौवंश के खड़े होने से वाहन चालक भी निकलने से कतराने लगते हैं। अन्ना गौवंश के रोकथाम के लिए शासन प्रशासन भले ही इसमें कंट्रोल करने का दावा कर रहे हो परन्तु हकीकत में धरातल पर जरा भी राहत नही है। आलम यह है कि खेत खलिहान में जहाँ किसान तरबाड़ी करके इनसे बचाओ में जुटा हुआ है, वहीं गाँव के अन्दर घरों के दरवाजों बचाने के लिए लोगों ने तरबाड़ी कर रखी है। पुख्ता इन्तेजाम न होने से इनका कहर बढ़ता जा रहा है। सैकड़ांे की तादाद में अन्ना घूम रहा है। गौवंश अब खेत खलिहान से निकलकर हाइवे में कहर बरपाने लगा है। वहीं आज नेशनल हाइवे 34 में प्रेमनगर के पास इनका कहर साफ नजर आया। खेत से निकलकर बाहर आया। यह गौवंश करीब एक घण्टे तक प्रेमनगर से इंगोहटा तिराहा के मध्य हाइवे में कहर बरपाता रहा। इनके कहर से तमाम वाहन चालक भी परेशान नजर आए। किसी तरह से बच बचाओ कर हाइवे को पार किया बाद में इंगोहटा के किसानों ने अन्ना को खदेड़ कर हाइवे को मुक्त किया और आवागमन सुचारू रूप से चालू हो सका। वहीं पशु चिकित्सा अधिकारी ने बताया कि सभी ग्राम पंचायतों में अस्थाई गौशालाओं का निर्माण जारी है। जल्द ही अन्ना जानवरांे को बन्द कराकर किसानों एवं राहगीरों को राहत मिलेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *