हमीरपुर

जिलाधिकारी ने बाढ़ प्रभावित इलाकों का किया निरीक्षण

हमीरपुर। जनपद में शनिवार को दोपहर 3.00 बजे यमुना तथा बेतवा नदी का जल स्तर क्रमशः 101.28 मीटर तथा 101.92 मीटर है। माताटीला बांध से बेतवा नदी पर तीन लाख क्यूसेक पानी छोड़ा गया है एवं कोटा बैराज से यमुना नदी पर आठ लाख क्यूसेक पानी शनिवार को प्रातः 8.00 बजे पास किया गया है। जिससे बेतवा एवं यमुना नदी का जलस्तर वर्तमान स्तर से लगभग 4 मीटर बढ़ने की संभावना है। यह पानी हमीरपुर जनपद में कल लगभग 9 बजे तक आने की सम्भावना है। पानी खतरे के बिंदु यमुना नदी 103.632 मीटर एवं बेतवा 104.546 से लगभग 1 मीटर ऊपर जाने की संभावना है। इससे इन नदियों के किनारे बसे लगभग 15 गांव एवं डेरे बाढ़ से प्रभावित होने की आशंका है, जो कि मुख्यतः हमीरपुर सदर तहसील के अंतर्गत आते हैं।

उक्त संभावित बाढ़ के दृष्टिगत आज जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश तथा पुलिस अधीक्षक हेमराज मीणा ने ग्राम पटिया, कुतुबपुर, ब्रह्मा का डेरा, भिलावा, मेरापुर, भोला का डेरा, केसरिया डेरा सहित मुख्यालय के विभिन्न स्थानों का निरीक्षण कर वहां के हालातों का जायजा लिया तथा स्थानीय निवासियों से सतर्क रहने एवं नदियों में नाव न चलाने और ऊंचे स्थानों पर जाने की अपील की। साथ ही संभावित बाढ़ के दृष्टिगत जिलाधिकारी ने सभी संबंधित अधिकारियों को आवश्यक सुविधाएं दुरुस्त करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि संबंधित गांव के प्राथमिक, उच्च प्राथमिक विद्यालय, पंचायत भवनों में संबंधित प्रभावित ग्राम वासियों को ठहरने हेतु सारे इंतजाम शनिवार शाम तक ही कर लिए जाएं। उन्होंने स्वास्थ्य विभाग, विद्युत विभाग, लोक निर्माण विभाग, लघु सिंचाई विभाग, आपूर्ति विभाग, राजस्व विभाग, पशुपालन विभाग, पुलिस विभाग सहित अन्य संबंधित विभागों को बाढ़ से निपटने हेतु युद्ध स्तर पर कार्य करने के निर्देश दिए हैं। साथ ही संबंधित बाढ़ के दृष्टिगत इलाके ड्रोन कैमरे के माध्यम से प्रभावित क्षेत्रों तथा नदियों के जल स्तर व उसके प्रभाव क्षेत्रों पर नजर रखी जा रही हैै। इस निरीक्षण के दौरान पुलिस अधीक्षक हेमराज मीणा ने कहा कि बचाव कार्य हेतु सभी तैयारियां पूर्ण कर ली गई हैं। एडीआरएफ तथा पीएसी बल की भी व्यवस्था की जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *