प्रयागराज

डिफेंस कॉरिडोर से जुड़ेगा प्रयागराज-सिद्धार्थ नाथ सिंह

प्रयागराज। केंद्र सरकार की महत्वाकांक्षी परियोजना डिफेंस कॉरिडोर से प्रयागराज को जोड़ने की मुहिम तेज हो गई है। इस परियोजना के जोड़ने के बाद प्रयागराज सूबे का सातवां शहर  होगा। इस परियोजना की जानकारी डॉ सिद्धार्थ नाथ ने दी । इस परियोजना से जुड़े पूरे उत्तर प्रदेश में छः जनपद लखनऊ,अलीगढ़, आगरा,झांसी,चित्रकूट,कानपुर शामिल है। इस परियोजना में शामिल होने वाला प्रयागराज सातवां जनपद होगा, साथ ही यहां रोजगार के अवसर भी प्राप्त होंगे।हालांकि इसके पूर्व ही लखनऊ में इन्वेस्टर समिति की बैठक हुई थी जिसमें प्रयागराज को डिफेंस कॉरिडोर में शामिल किए जाने पर विचार विमर्श किया गया था। साथ ही कैबिनेट में भी इस बात को उठाई गई थी।

सरकार के मन्त्री डॉ सिद्धार्थ नाथ सिंह ने इस बात को साफ किया कि प्रयागराज को डिफेंस कॉरिडोर में शामिल करने का रास्ता साफ हो गया है। इस परियोजना के लिए यमुनापार नैनी में जमीन की तलाश की जा रही है। वहीं जनपद वासियों का मानना है कि यदि इस परियोजना का शुभारंभ प्रयागराज की धरती पर किया जाता है तो यहां बेरोजगारी कम होगी रोजगार के अवसर प्राप्त होंगे। इस परियोजना के लिए नैनी स्थित हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड की स्वाधिकृत सहायता संस्था एयरोस्पेस की महत्वपूर्ण योगदान होगी इसलिए कि जल्द ही भारतीय सेना द्वारा प्रयोग किए जाने वाले धु्रव हेलीकॉप्टर का ढांचा बनाने का काम शुरू किया जाएगा। इसके लिए नैनी एयरोस्पेस को एअरबस और बोइंग एयरक्राफ्ट लूम बनाने का एएस 9100 डी सर्टिफिकेट भी पिछले वर्ष मिल गया है। जबकि यह ढांचा अभी एचएएल बेंगलुरु में ही तैयार किया जाता रहा है। डिफेंस कॉरिडोर को प्रयागराज को जोड़ने से रोजगार के अवसर बढ़ेंगे ही साथ-साथ रक्षा डिफेंस से संबंधित कई उपकरण बनाए जाने पर भी बल दिया जा सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *