उन्नाव

बारिश के बाद जर्जर भवनों के भागों का गिरना चालू

उन्नाव। शहर में इन दिनों लगातार हो रही बारिश से जर्जर मकानों पर गिरने का खतरा पैदा हो गया है और कभी भी जनहानि हो सकती है। शहर में कई दर्जन जीर्णशीर्ण हालत मेेें मकान खड़े हैं। जिनको हादसा बचाना के लिए गिराना आवश्यक है। जिला प्रशासन को ऐसे मकानों को चिन्हांकन कर मकान मालिकों को नोटिस जारी करना चाहिए। गांधीनगर में 70 साल पूर्व बनी एक इमारत खण्डहर का रुप ले चुकी है उसका छज्जा रास्ते में अचानक गिर गया। यदि इस बीच कोई व्यक्ति उस गली से जा रहा होता तो हादसा हो सकता था।
वहीं शहर के बड़े चैराहे झण्डेश्वर महादेव मंदिर के ठीक सामने जर्जर इमारत आम जनता को मौत की दवात दे रही है। कल इसी इमारत का एक हिस्सा गिरा तो सदर बाजार में भगदड़ मच गई। नगर पालिका टीम व पुलिस भी पहंुची। पांच लोगों को भवन खाली करने के लिए नोटिस भी दी गई। लेकिन कोई फायदा नही हुआ। भवन मालिक भवन में रह रहे हंै। अगर इस जर्जर भवन को नहीं गिरवाया गया तो कभी भी कोई बड़ी दुर्घटना हो सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *