उन्नाव

सीडीओ ने किया शहरी प्रधानमंत्री आवास योजना की समीक्षा

आवेदक जो योजना का लाभ नहीं ले पाए हैं, 15 दिन में करें आवेदन—

उन्नाव । मुख्य विकास अधिकारी डा0 राजेश कुमार प्रजापति ने बताया कि जिला नगरीय विकास अभिकरण (डूडा) उन्नाव द्वारा संचालित प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) लाभार्थी आधारित व्यक्तिगत आवास निर्माण (नवीन/विस्तार) के अंतर्गत ऐसे आवेदक जो किन्ही कारणोंवश इस योजना का लाभ नहीं ले पाए हैं या उनके नाम पात्रता सूची में दर्ज नहीं हो पाए हैं एवं योजना का लाभ लेना चाहते हैं, जिसकी अर्हतायें बताते हुये उन्होंने बताया कि भारतवर्ष में कहीं भी पक्का मकान नहीं होना चाहिए, परिवार की वार्षिक आय तीन लाख से अधिक नहीं होनी चाहिए, भूमि अभिलेख होना अनिवार्य है, आधार कार्ड/बैंक खाता होना अनिवार्य है।
उन्होंने बताया कि इस योजना का लाभ लेना चाहते हों तो 15 दिवस के अंदर अपना आवेदन फॉर्म समस्त प्रपत्रों साहित अधिशासी अधिकारी, नगर पालिका परिषद/नगर पंचायत कार्यालय/ डूडा कार्यालय में जमा कर योजना का लाभ ले सकते हैं। उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) सबके लिये आवास योजनान्तर्गत नगर पालिका परिषद उन्नाव में पूर्व में लाभार्थी आधारित व्यक्तिगत आवास के अंतर्गत 4765 लाभार्थियों का चयन कर शासन द्वारा स्वीकृति की गई थी, जिसके सापेक्ष 1133 लाभार्थियों से पते स्पष्ट न होने के कारण एवं मोबाइल नम्बर गलत होने के कारण लाभार्थियों से सम्पर्क नहीं हो पाया और न ही लाभार्थियों द्वारा अभी तक कार्यालय में संपर्क किया गया है, जिस कारण इस योजना में प्रगति पूर्ण किया जाना संभव नहीं हो पा रहा है।
उन्होंने सम्बन्धित समस्त लाभार्थियों को सूचित करते हुये बताया है कि अधिशासी अधिकारी, नगर पालिका परिषद कार्यालय, उन्नाव एवं जिला नगरीय विकास अभिकरण, विकास भवन कार्यालय, उन्नाव में कल 6 नवंबर से 15 दिवस तक सूची चस्पा रहेगी। उपरोक्त तिथियों में अपने समस्त प्रपत्रों भूमि अभिलेखों के साथ प्रातः 10ः00 से 03ः00 बजे तक डूडा नगर पालिका परिषद कार्यालय, उन्नाव में संपर्क करें। उन्होंने कहा कि यदि आपके द्वारा इन 15 दिनों में कार्यालय में संपर्क नहीं किया जाता है तो आपकी पात्रता स्वीकृति स्वतः निरस्त कर दी जाएगी, जिसकी संपूर्ण जिम्मेदारी आपकी होगी।

आवास लेने के लिए ये होनी चाहिए अर्हतायें

भारतवर्ष में कहीं भी पक्का मकान नहीं होना चाहिए, परिवार की वार्षिक आय तीन लाख से अधिक नहीं होनी चाहिए, भूमि अभिलेख होना अनिवार्य है, आधार कार्ड/बैंक खाता होना अनिवार्य है।उन्होंने बताया कि इस योजना का लाभ लेना चाहते हों तो 15 दिवस के अंदर अपना आवेदन फॉर्म समस्त प्रपत्रों साहित अधिशासी अधिकारी, नगर पालिका परिषद/नगर पंचायत कार्यालय/ डूडा कार्यालय में जमा कर योजना का लाभ ले सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *