हमीरपुर

जिलाधिकारी ने रात्रि 12 बजे मौरम खदानों का औचक निरीक्षण किया

हमीरपुर । जनपद में बालू ध्मोरम का अवैध खनन, परिवहन आदि किसी भी दशा में न होने पाए, यह सुनिश्चित कराने के लिए जिलाधिकारी डॉ ज्ञानेश्वर त्रिपाठी पूरे मनोयोग से लगातार कार्यवाही कर रहे हैं। रात्रि में 12 बजे मौरम खदानों का औचक निरीक्षण किए। 03 दिन भी नही बीते थे कि गत दिवस थाना समाधान दिवस राठ के बाद जिलाधिकारी ने पूरे दल बल के साथ तहसील सरीला के खनन क्षेत्र चंदवारी घुरौली के खंड संख्या 26/8 का औचक निरीक्षण किया गया। इस अवसर पर जेसीबी मशीनों के माध्यम से खनन कार्य होते हुए पाया गया ,खनन कार्य में प्रयुक्त एक्सीवेटर मशीनध् लोडिंग मशीन की बूम लेंथ 03 मीटर से अधिक नहीं पाई गई,जोकि शासनादेश के अनुसार ही है। इस अवसर पर जिलाधिकारी ने निर्देश दिए कि जो मशीनें खनन कार्य में प्रयोग हो रही हैं उनका नंबर, चालक का नाम एवं मोबाइल नंबर, मशीनों का रजिस्ट्रेशन नंबर आदि के विवरण खनिज कार्यालय को उपलब्ध कराया जाए। निरीक्षण के दौरान 03 मीटर मानक से अधिक गहराई में खनन कार्य होते हुए पाया गया जोकि एनजीटी ध्शासन निदेशालय द्वारा निर्धारित गहराई से अधिक है। निर्धारित मानक से अधिक गहराई में खनन संक्रियाएं किए जाने के संबंध में इसका आकलन ध् सर्वे कर नियमानुसार कार्रवाई किये जाने तथा दण्ड निर्धारित करने हेतु उन्होंने आज खनिज सर्वेयर, खनिज अधिकारी व तहसील स्टाफ की टीम को रवाना किया है ।
उन्होंने निर्देश दिए कि खनन कार्य प्रारंभ के पूर्व की, बीच की तथा बाद की 360 डिग्री एंगल की वीडियोग्राफी कराई जाए। पट्टा स्थल पर स्थित बोर्ड में पट्टा क्षेत्र के क्वार्डिनेट्स अंकित नहीं पाएगा जिसे अंकित कराये जाने के साथ ही तत्काल पूर्ण विवरण बोर्ड पर अंकित कराए जाने के निर्देश दिए। इस दौरान जिलाधिकारी ने तौल मशीन स्थल का निरीक्षण किया तौल मशीन की स्थापना से संबंधित अभिलेख नहीं दिखाया जा सके, तौल मशीन की स्थापना के उपरांत इसकी क्रियाशीलता एवं मानक के संबंध में कोई प्रमाण पत्र भी नहीं दिखाई जा सके, तौल मशीन स्थल पर 03 सीसीटीवी कैमरे स्थापित किए गए हैं, स्थापित सीसीटीवी कैमरों की दृश्यता 360 डिग्री नहीं पाई गई जोकि अनुबंध शर्तों तथा शासनादेश के अनुसार विपरीत है अतः इस संबंध में उन्होंने तत्काल कड़ी कार्यवाही के निर्देश खनिज अधिकारी को दिए तथा कहा कि समस्त पट्टा धारकों द्वारा 360 डिग्री के 04 कैमरे प्रत्येक खनन स्थल पर अनिवार्य रूप से स्थापित कराए जाएं अन्यथा तत्काल कार्रवाई की जाए। चूंकि खनन स्थल पर जाने हेतु कई मार्ग बनाये गए हैं अतः अवैध खनिज परिवहन ध् अवैध खनन रोकने के दृष्टिकोण से आने जाने के मार्ग के अतिरिक्त अन्य मार्गों को प्रतिबंधित करने के निर्देश उन्होंने संबंधित अधिकारियों को दिए। उन्होंने कहा कि निरीक्षण में पाई गई कमियों के संबंध में अपर जिलाधिकारी तथा खनिज अधिकारी द्वारा तत्काल पत्रावली पर आख्या प्रस्तुत की जाए तथा नियमानुसार कार्रवाई सुनिश्चित की जाए ।
इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक, अपर जिलाधिकारी, अपर पुलिस अधीक्षक, उप जिलाधिकारी सरीला ,क्षेत्राधिकारी सरीला आदि मौजूद रहे ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *