उन्नाव

सरकारी कर्मचारी है, उन्हीं में वितरण कर कर्तव्यों का निर्वाहन किया जा रहा है जो आपत्ति जनक-डीएम

उन्नाव। जिलाधिकारी ने सख्त लहजे में कहा कि जो पात्र नहीं है, सरकारी कर्मचारी है, उन्हीं में वितरण कर कर्तव्यों का निर्वाहन किया जा रहा है जो आपत्ति जनक है। डीएम जिलाधिकारी रवीन्द्र कुमार व पुलिस अधीक्षक विक्रान्त वीर अपने भ्रमण के दौरान नवाबगंज क्षेत्र मेें स्थापित राममूर्ति स्मारक अस्पताल में कोरोना वायरस के रोकथाम एवं उनके उपचार हेतु 100 बेड आरक्षित कराये जाने एवं अब तक हुई तैयारियों का जायजा लिया। उपस्थित प्रबन्धक को निर्देश दिये कि समय से बेडो की तैयारी रखे ताकि समय पर इस अस्पताल का उपयोग किया जा सकें ।
जिलाधिकारी प्राथमिक विद्यालय भैसौरा, कन्या प्राथमिक विद्यालय, तथा श्याम लाल इन्टर काॅलेज विकास क्षेत्र नवाबगंज का निरक्षण किया। बाहर से आये ग्रामीणों को क्वाॅरेंटाइन सेंटर पर क्वाॅरेंटाइन किये गये व्यक्तियों के रहने, खाने एवं उनको दी जा रही स्वास्थ्य सेवाओं के बारे में उप जिलाधिकारी हसनगंज, जिला विकास अधिकारी ,अधिशाषी अधिकारी नगर पचायत एवं सम्बन्धित ग्राम प्रधान से विस्तार से जानकारी ली। जिलाधिकारी प्राथमिक विद्यालय भैसौरा में क्वाॅरेंटाइन सेंटर में रखे गये 12 लोगो के बारें में उपस्थित ग्राम विकास अधिकारी श्री गुडडू श्रीवास्तव से विस्तार से जानकारी ली जिस पर जिलाधिकारी ने उनके द्वारा की गई व्यवस्था से काॅफी असन्तुष्ट रहे जिस के कारण जिलाधिकारी ने ग्राम विकास अधिकारी श्री गुडडू श्रीवास्तव को विभागीय कार्यवाही एवं चार्जसीट दिये जाने के निर्देश दिये तथा जिला विकास अधिकारी/खण्ड विकास अधिकारी को भी नवाबगंज ब्लाक क्षेत्र में सही सुपरविजन एवं उनके द्वारा कोरोना वायरस के बचाव से सम्बन्धित तैयारियों का स्थलीय पर्यवेक्षण सन्तोष जनक न होने के कारण उन्हे भी स्पष्टीकरण दिये जाने के निर्देश दिये। जिलाधिकारी कन्या प्राथमिक विद्यालय-नवाबगंज में बने कम्यूनिटी किचेन का निरीक्षण किया तथा उपस्थित अधिशाषी अधिकारी नगर पंचायत नवाबगंज अनिल कुमार से कम्यूनिटी किचेन/कन्टाªेल रूम की स्थिति के बारे में अब तक आई शिकायतों के निस्तारण के बारे में सन्तोष जनक जवाब न दे पाने के कारण अधिशाषी अधिकारी के विरूद्व कार्यवाही करने के निर्देश दिये गये।
जिलाधिकारी ने निर्देश दिये कि सभी व्यक्ति क्वारन्टाईन समय अवधि तक अनिवार्य रूप से इसी स्थल पर रूकें यदि वे किसी समय स्थल छोड़तें हैं तो उनके विरूद्ध कार्यवाही की जाये। उन्होंने कहा कि क्वाॅरेंटाइन सेंटर पर रखे गये लोगो का नियमित परीक्षण के साथ ही खान-पान का प्रमुखता से ख्याल रखा जाये। क्वाॅरेंटाइन किये गये लोगो का स्वास्थ्य परीक्षण के उपरान्त फिट होने पर ही उनके घर भेजा जाये। कोरोना वायरस के संक्रमण के बचाव को दृष्टिगत क्वाॅरेंटाइन सेंटर पर सोशल डिस्टेंस का पालन किया जाये। क्वाॅरेंटाइन सेंटर में ठहरे हुये व्यक्तियों की देखरेख में लगाये गये कर्मचारियों की रोस्टरवार ड्यूटी लगाये जाने की जानकारी हासिल की। जिलाधिकारी ने स्पष्ट शब्दो में सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देश दिये है कि कम्यूनिटी किचेन से उन्ही पात्र लोगो को खाना पहुचाया जायें जो पात्र है। प्रायः ऐसा देखा जा रहा है कि जो पात्र नही है सरकारी कर्मचारी है उन्ही में वितरण कर कर्तव्यो का निर्वाहन किया जा रहा है। जो आपत्ति जनक है।
भ्रमण के दौरान पुलिस अधीक्षक विक्रान्त वीर, उप जिलाधिकारी हसनगंज श्री प्रदीप वर्मा तथा उप निदेशक सूचना डाॅ0 मधु ताम्बे आदि उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *