प्रयागराज

महामारी से निपटने की तैयारियों की समीक्षा बैठक सम्पन्न

प्रयागराज। मण्डलायुक्त प्रयागराज मण्डल आर रमेश कुमार व पुलिस महानिरीक्षक के. पी. सिंह न जनपद फतेहुपर में कोविड-19 वैश्विक महामारी से निपटने व की गयी तैयारियों की समीक्षा बैठक कलेक्ट्रेट महात्मा गांधी सभागार में सम्पन्न हुई। बैठक में मुख्यमंत्री के निर्देशानुसार 11 कमेटियां बनाने के निर्देश की प्रगति समीक्षा की गयी, जिसमे चिकित्सा विभाग द्वारा चिकित्सकों की ट्रेनिंग करा दी गई और सभी चिकित्सक जिम्मेदारी से अपने कार्य का निर्वहन कर रहे है। समुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र थरियांव में 30 बेड के अतिरिक्त जिला चिकित्सालय में 10 सीएसएमध् 03 कक्ष आईसोलेशन सेंटर चिन्हित किये गए है और 349 मरीजो के सैंपल भेजे गए गए जो निगेटिव प्राप्त हुए है। ग्राम पंचायतों से प्रधानों द्वारा गैर जनपद से आने वाले लोगो की सूचना जिला कंट्रोल रूम में प्राप्त होने के पश्चात एम्बुलेंस के माध्यम से आये हुए लोगो की जांच हेतु उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया जा रहा है।
मण्डलायुक्त ने जिला पूर्ति अधिकारी को निर्देश दिये की राशन की दुकाने पर दाल के स्थान पर चना का वितरण किया जाना है जिसका व्हाट्स एप ग्रुप व समाचार पत्रों के माध्यम से प्रचार प्रसार कराये ताकि लोगो को जानकारी हो सके। उन्होंने राशन की दुकानों की लगातार चेकिंग करने के निर्देश दिये साथ ही दिव्यांगध्असहाय व्यक्तियों के घर मे राशन पहुचाये जाने की व्यवस्था करने के लिए सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देशित किया।
सब्जी, फल, दूध, ब्रेड के विक्रेताओं के विधानसभा सदर में 304, बिन्दकी में 151, खागा में 107 सहित कुल 562 पास प्रसाशन द्वारा जारी किए गए है जो निर्धारित दर पर बेंच रहे है। 17 गौशाला केन्द्र है जिसमे 2640 गौवंश है जिनका समय पर निरीक्षण किया जा रहा है। गौवंशो के भरण पोषण के लिए भूसा क्रय करके भंडारण किया जा रहा है और गौवंशो की देखरेख के लिए 25 पास जारी किए है। गौशालाओ में पीने के पानी व छाया के लिए टीन शेड की पर्याप्त व्यवस्था है। जनपद में उद्योग की 12 इकाई स्थापित है जिसमे 09 हजार कुंतल गेंहूध्आटा एवं 45 हजार कुंतल चावल का पर्याप्त भंडार पाया गया। पंचायत विभाग द्वारा चैदहवाँध्चतुर्थ वित्त आयोग से मास्क और सेनेटाइजर क्रय किये गए है तथा सेनेटाइजर को मशीनों से ग्राम पंचायतों में सफाई कर्मियों द्वारा छिड़काव कराया जा रहा है। उन्होंने डीपीआरओ से कराये गए कार्य की फोटोग्राफी भी कराने के निर्देश दिए।
मण्डलायुक्त ने कंट्रोल रूम में प्राप्त शिकायतों को रजिस्टर पर अंकन करके संबंधित विभागों के माध्यम से उसके निस्तारण कराने के निर्देश दिए। पुलिस विभाग द्वारा 351 एफआईआर, 320 गिरफ्तारी, 4300 वाहन चालान एवं 45 लाख शमन शुल्क वसूला गया है। शासन द्वारा निर्धारित रु0 1925 प्रति कुंतल की दर से किसानों का गेंहू केन्द्र पर क्रय किया जाए और केन्द्रो को निर्धारित समय से खोला और बन्द किया जाए एवं समय पर चेकिंग भी की जाए। मण्डलायुक्त ने इस कठिन समय में अधिकारियों द्वारा किये जा रहे कार्यो की सराहना की। उन्होंने कोविड -19 महामारी का सामना टीम भावना के साथ करने को कहा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *