.

50 से अधिक श्रमिकों वाले प्रतिष्ठानों में बाहर से आने श्रमिकों के लिए बसों की हो व्यवस्था

उन्नाव। नोवेल कोरोना वायरस (कोविड-19) नामक महामारी के चलते इस महामारी से निजात पाने के उद्देश्य से जिलाधिकारी रवीन्द्र कुमार पुलिस अधीक्षक विक्रान्त वीर ने लाॅकडाउन के दौरान आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति, विशेष तौर पर होम डिलीवरी, आदि के बारे में 11 सदस्य समितियों कि नियमित समीक्षा बैठक मुख्य विकास अधिकारी कक्ष में की। इसका उद्देश्य लाॅकडाउन के दौरान आम जन मानस को किसी भी तरह की कोई परेशानी न हो, उन्हें आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति समय से हो। जनपद में साफ-सफाई आदि की उचित व्यवस्था हो। क्वारेंटाइन सेन्टर, कोरोना आदि विषयों पर चर्चा की गई।
जिलाधिकारी ने बैठक में मुख्य विकास अधिकारी, डॉ राजेश कुमार प्रजापति को निर्देशित करते हुए कहा कि जनपद में आॅरेज जोन में 50 से अधिक श्रमिको वाले प्रतिष्ठानों में बाहर से आने वाले कर्मियों, श्रमिको के लियें सार्वजनिक परिवहन प्रणाली पर किसी प्रकार की निर्भरता के बिना विशेष परिवहन की व्यवस्था करें। जिसमें केवल 50 प्रतिशत यात्री क्षमता के साथ बसे चलाई जाये।
उन्होंने कहा कि परिसर में प्रवेश करने वाले सभी वहानों पर किटनाशक स्प्रेय कराया जाये ताकि वाहनों को विसंक्रमित किया जा सकें। उन्होंने कहा कि जो भी लोग बाहर से आ रहे हैं उन्हें क्वॉरेंटाइन सेंटर में ही रखा जाय। इस बात का विशेष ध्यान रखा जाए कि कोई भी बाहर से आने वाला व्यक्ति सीधे अपने घर को न जाएं। उन्हें पहले क्वॉरेंटाइन किया जाए उसके पश्चात ही उन्हें घर भेजा जाए। मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ आशुतोष कुमार से कोरोना वायरस सम्बन्धी क्वारेंटाइन आदि की विस्तृत जानकारी ली। अपर जिलाधिकारी राकेश सिंह ने आज आवश्यकता अनुसार खाद्यान किट तैयारी कर पात्र लोगों को खाद्यान्न किट उपलब्ध करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *