जिला

कोरोना योद्धा के असली हकदारों को हॉस्पिटल ने किया सम्मानित

गोरखपुर। मेडिवर डिजिटल हॉस्पिटल के फाउंडर रामेश्वर मिश्रा एवं विजय यादव ने कोरोना योद्धा के असली हकदार जिलाधिकारी के. विजयेंद्र पांडियन व वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक डॉ सुनील गुप्ता को कार्यालय में पहुंचकर दोनों फाउंडरों ने सम्मानित किया।
डीएम व एसएसपी न रात देखी हैं न दिन, लाक डाउन से पहले भी आए हुए कार्यालय में सभी फरियादियों की समस्या सुनकर तुरंत संबंधित अधिकारियों को निराकरण करने का निर्देश देते रहते हैं। आज लॉक डाउन के बाद भी हर जरूरतमंदों के पास पहुंच कर उनकी समस्याओं का समाधान करने की हर स्तर से कोशिश कर रहे हैं। वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के रोकथाम के लिए लागू लाक डाउन में जहां आम जन मानस घर में रहकर सुरक्षित महसूस कर रहा है, वहीं अपने जीवन शैली को त्याग कर ड्यूटी निर्वहन करते हुए दिन रात एक कर नागरिक हित में पीछे नही हट रहें हैं। कड़ी मेहनत व लगन से जनता तक व्यवस्था पहुंचाने में लगे हुए है। यह अधिकारी हर जरूरतमंदों को कम्युनिटी किचन से भोजन व राशन पहुंचाने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ रहे हैं। गोरखपुर जनपद का कौन व्यक्ति बाहर के प्रदेशों में फंसा है उनको बुलाने तक की व्यवस्था कर रहे हैं, साथ में बाहर से आये हुये व्यक्ति अपने जनपदों में पहुंचा कि नहीं पता लगवाते हैं। अपने संबंधित अधिकारियों से सामंजस्य बनाते हुए कुशल नेतृत्व करते हुए स्वयं भ्रमणशील रहते हुए सोशल डिस्टेंसिंग व लॉक डाउन का पालन करवाते हुये गोरखपुरवासियों को कोरोना संक्रमण महामारी से बचाने में लगे हुए हैं। ऐसे कोरोना योद्धा को मेडिवर डिजिटल हॉस्पिटल ने सम्मानित कर अपना निर्णय सही लिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *