उन्नाव

ग्रामीण क्षेत्रों के सभी परिवारों के लिये शौचालय की सुविधा उपलब्ध हो-सीडीओ

उन्नाव । जनपद में सामुदायिक शौचालय के निर्माण निर्धारित लक्ष्य के सापेक्ष्य पूर्ति समय सीमा में करने के निर्देश खण्ड़ विकास अधिकारियों एवं पंचायत विभाग से जुड़े अधिकारियों को मुख्य विकास अधिकारी डा0 राजेश कुमार प्रजापति ने दिये।
मुख्य विकास अधिकारी ने निराला प्रेक्षागृह में सामुदायिक शौचालय के निर्माण एवं गुणवत्ता युक्त कार्य कराये जाने पर बल देते हुये कहा कि सभी अधिकारियों कर्मचारियों को अपने दायित्वों को निर्धारित करतें हुये संकल्प एवं साधन की पवित्रता बनाकर, संकारात्मक सोच रख कर लीडरशिप में कार्य किया जाये। किसी के साथ दुरागृह न करें, हमे संकल्प लेकर विकास की धारा को आगे बढ़ाने मेें सहयोग करना चाहियें।
उन्होंने कहा कि इसका उद्ेश्य स्वच्छ भारत मिशन, ग्रामीण योजना का ग्रामीण क्षेत्रों के सभी परिवारों के लिये शौचालय की सुविधा उपलब्ध कराये जाना है। पेयजल एवं स्वच्छता मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा सामुदायिक शौचालय परिसरों के निर्माण किये जाने की व्यवस्था की गई है। इस योजना के तहत सभी परिवारों के लिये शौचालय उपलब्धता सुनिश्चित कराये जाने की दृष्टि से सामुदायिक शौचालयों का निर्माण किया जाना है। प्रत्येक ग्राम पंचायत में सामुदायिक शौचालयों का निर्माण एवं वर्तमान समय में केन्द्र एवं प्रदेश सरकार महिलाओं की सुरक्षा को लेकर बेहद सवेदनशील है।
मुख्य विकास अधिकारी ने उपस्थित समस्त खण्ड़ विकास अधिकारियों, ग्राम विकासध्पंचायत अधिकारी तथा समस्त अवर अभियंता आर0ई0डी0 को निर्देश दिये है कि सामुदायिक शौचालयों के निर्माण में स्थल चयन, प्रस्तावित डिजाइन तथा शौचालयों के रख-रखाव एवं अनुरक्षण के साथ-साथ वित्तीय व्यवस्था को मानक के अनुसार कार्य कराये जाने पर बल दिया। उन्होंने कहा कि यह सुनिश्चित किया जायेे कि स्थल चयन आबादी के निकट हो पुरूषों एवं महिलाओं के शौचालय स्थलों को अलग-अलग रखा जाये। स्थल चयन प्रक्रिया में समुदाय से चर्चा तथा ग्राम सभा से प्रस्ताव पारित कराकर ही स्थल का चयन किया जाये। शौचालय निर्माण का श्रमांश मनरेगा की धनराशि से व्यय किया जायेगा। धनराशि का उपयोग करने हेतु निर्धारित आदेशों का कड़ाई से पालन किया जाये। रख रखाव एवं दैनिक साफ-सफाई का अनुश्रवण निगरानी समिति द्वारा ग्राम पंचायत के सहयोग से किया जायेगा।
इस अवसर पर शौचालय निर्माण की तकनीकी जानकारी देते हुये इ0 जयसिंह, अवर अभिंयता ग्रामीण अभियन्त्रण विभाग ने उपस्थित अधिकारियों से कहा कि शासन के दिशा निर्देशों के अनुसार ईट, बालू, सीमेन्ट सरिया आदि मानक के अनुसार लगाये, फर्स का स्लोग एवं सीट उपलब्ध करायी गई गाइड लाइन के अनुसार कार्य किया जाता है तो काफी अधिक वर्षों तक जनसमुदाय को इसका लाभ मिलता रहेगा।
जिला पंचायत राज अधिकारी राजेन्द्र प्रसाद यादव ने पंचायत विभाग की योजनाओं के बारे में बताया कि वर्ष 2020-21 में ग्राम पंचायत वार सामुदायिक शौचालयों का निर्माण कराया जाना है। जिसमें पंचायत भवन निर्माण, आपरेशन कायाकल्प के तहत प्राथमिकध्जुनियर विद्यालयों में आपरेशन कायाकल्प के तहत बाउन्ड्रीवाल, शौचालय आदि का कार्य मनरेगा से कराया जायेगा। जिसमें आंगनवाडी केन्द्रांे के शौचालयों का निर्माण भी कराया जाना भी समलित है। सभी कार्य निधारित समय सीमा में कराये जाने का प्रयास किये जा रहे है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *