हमीरपुर

कस्बे में लगातार बढते कोरोना संक्रमित मरीजों को लेकर क्षेत्र में मचा हडकंप

मौदहा हमीरपुर। कस्बे में कोरोना संक्रमितों की बढ़ती हुयी संख्या से कई नये हाट स्पाट बनने से अब लगभग आधा कस्बा जिसमे मुख्य बाजार व कई महत्वपूर्ण कार्यालय है। जहां अब लोगों का आना जाना भी मुश्किल हो गया है।
न बिजली के बिल जमा हो पा रहे हैं और न ही उसमे छूट की तिथि बढनी है। आज नगर के पांच मामलों में मुख्य मार्ग मलिकुआ चैराहे के निकट, आर्यव्रत बैंके के निकट तथा राजस्व विभाग के दो कर्मी यूनियन नेताओं के साथ ही एक मामला कपसा मार्ग पुरानी चुंगी के निकट रह रहे गाड़ी चालक युवक व सिलौली गांव निवासी एक युवक के साथ दो कम्हरिया गाव स्थित आस्ताने मे रहने वाले पाये गये हैं। इनमें एक युवती औरैया निवासी व युवक बांदा जनपद के मटौंध निवासी है, वह यहां रूहानी इलाज के लिये लम्बे समय से पडे़ है।
नगर में कोरोना पीड़ितांे के पांच नये मामले सामने आने से अब यहां इनकी सख्या 23 पहुंच गयी है। वहीं आस पास के क्षेत्र मे अरतरा उर्दना कम्हरिया सिलौली सहित अब कुल सख्या 30 हो गयी है।
अस्पताल के अधीक्षक डा अनिल सचान ने पुनः स्मरण दिलाते हुये कहा है कि जब तक सोशल डिस्टेंिसग और कड़ाई से मास्क लगाने का कार्य नहीं किया जायेगा। तब तक कोरोना पाजिटिव की चेन टूटना आसान नही है। उन्होंने आज सुबह से अधिशाषी अधिकारी राजेश वर्मा व अन्य नगर पालिका तथा स्वास्थ्य कर्मियो की मदद से सभी पीडितों को बांदा के कोविड अस्पताल पहुंचाया। वहीं राजस्व विभाग के वरिष्ठ लिपिक के कोरोना पीडित मिलने से उनका निवास बांकी तलैया को हाट स्पाट घोसित कर कंटेंमेण्ट जोन मे बदल दिया गया। वहीं इसी से सटै हुये साजन तालाब , कपसा मार्ग , पुरानी चुंगी के निकट एक चैपहिया वाहन चालक जो पूर्व मे कोरोना पाजिटिव के समर्पक मे रहा है, जांच उपरान्त पाजिटिव निकलने पर यह क्षेत्र भी हाट स्पाट घोसित कर दिया गया। साथ ही राजस्व विभाग के एक कददावर नेता भी कोरोना की चपेट मे आकर पाजिटिव मिले है। जिसके चलते मराठी पुरा भी हाटस्पाट घोसित हुआ। वहीं मुख्य मार्ग मलिकुआ व तहसील के बीच एक मेडिकल स्टोर का युवक भी कोरोना पाजिटिव जाये जाने से यह मार्ग भी कई जगह हाटस्पाट बन गया। कस्बे के अधिकांश दुकाने बन्द है। इसके बावजूद कण्टेंमेण्ट जोन मे बास बल्ली बांधकर सील किया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *