.

जिला विकास समन्वय और निगरानी समिति की बैठक सम्पन्न

प्रयागराज। सांसद, इलाहाबाद डाॅ0 रीता बहुगुणा जोशी एवं सांसद फूलपुर केशरी देवी पटेल की अध्यक्षता में जिला विकास समन्वय और निगरानी समिति की बैठक संगम सभागार में आयोजित किया गया, जिसमें मा0 विधायक, शहर उत्तरी हर्षवर्धन वाजपेयी, विधायक फाफामऊ- विक्रमाजीत मौर्य, विधायक मेजा- नीलम करवरिया, विधायक कोरांव राजमणि कोल के साथ प्रमुख क्षेत्र पंचायत भी उपस्थित थे।
सांसद ने चिकित्सा विभाग की समीक्षा करते हुए वैश्विक महामारी कोविड-19 की व्यवस्थाओं के बारे में विस्तृत जानकारी ली। उन्होंने अस्पतालों में बेड़ों की संख्या के साथ ही कोरोना की जांच के लिए क्या व्यवस्था है, के बारे में पूछा। उन्होनें जांच रिपोर्ट के विलम्ब से आने के बारे में पूछा तथा होम आइशोलेशन में क्या सुविधायें दी गयी है, के बारे में मुख्य चिकित्साधिकारी से जानकारी ली, जिसपर मुख्य चिकित्साधिकारी ने बताया कि मैन पावर की संख्या बढ़ा दी गयी है और व्यस्थाओं में सुधार हो रहा है तथा रिपोर्ट 3 दिन के अंदर आ जाने की व्यवस्था सुनिश्चित की जा रही है। उन्होंने बताया कि ग्रामीण क्षेत्रों के लिए प्रत्येक ब्लाकों पर सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों पर परीक्षण का कार्य चल रहा है। मुख्य चिकित्साधिकारी ने जनप्रतिनिधियों से अपील भी किया कि उनके संज्ञान में जिस भी व्यक्ति के अंदर कोरोना के लक्षण प्रतीत हो रहे हो, उन्हें जांच कराने के लिए प्रेरित करें ताकि ससमय उनका उपचार किया जा सके। मुख्य चिकित्साधिकारी ने जानकारी दी कि शहरी क्षेत्रों में भी जांच केन्द्र खोले गये है। शहर के व्यक्ति वहां पर अपनी जांच करा सकते है। मा0 सांसद ने कोविड-19 के कार्य में लगे हुए कर्मचारियों की सुरक्षा के बारे में की गयी व्यवस्थाओं के बारे में जानकारी ली, जिसपर मुख्यचिकित्साधिकारी द्वारा विस्तृत जानकारी दी गयी। माननीया अध्यक्ष के द्वारा नगर निगम के अधिकारियों से साफ-सफाई, दवा के छिड़काव के बारे में जानकारी ली गयी तथा निर्देशित किया गया कि रोस्टर बनाकर जनप्रतिनिधियों को भी उपलब्ध करायें कि कब कहां छिड़काव करना है। जिलाधिकारी ने नगर निगम के अधिकारियों को निर्देशित किया कि सैनेटाइजेशन कार्यक्रम कहां-कहां चल रहा है, उसका पूरा विवरण मा0 जनप्रतिनिधियों को भी उपलब्ध करायें। बैठक में साफ-सफाई पर विशेष जोर दिया गया कि जिससे कि किसी दूसरी बीमारी का प्रसार न होने पाये।
पीडब्लूडी एवं पीएमजीएसवाई के कार्यों की समीक्षा करते हुए मा0 समिति के द्वारा सड़कों के बारे में जानकारी लिए जाने पर अधिशाषी अभियंता के द्वारा बताया गया कि जो भी सड़के खराब है, उनको शीघ्र ही ठीक करा दिया जायेगा। सिंचाई विभाग के कार्यों की समीक्षा में नहरों के संचालन, क्षतिग्रस्त पुलियों को ठीक कराने, सिल्ट सफाई के बारे में जानकारी ली गयी, जिसपर सिंचाई विभाग के अभियंता के द्वारा कार्यों के बारे में विस्तार से जानकारी दी गयी। हैण्ड पम्पों के रिबोर की स्थिति के बारे में समिति के द्वारा जिला पंचायतराज अधिकारी को निर्देशित किया गया कि जो भी हैण्ड पम्प क्रियाशील न हो, उनको तत्काल ठीक कराते हुए क्रियाशील किया जाये।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *