उन्नाव

जिलाधिकारी ने इमरजेन्सी सेन्टर का किया निरीक्षण

उन्नाव। जिलाधिकारी रवीन्द्र्र कुमार ने आज नोवल कोरोना वायरस कोविड-19 के तहत कलेक्ट्रेट के पन्नालाल हाॅल में जिला अपादा प्रबन्धन प्राधिकरण के तहत बनायें गये इनटिग्रेटड कोविड कन्ट्रोल रूम तथा जिला आपरेशन इमरजेन्सी सेन्टर का आकस्मिक निरीक्षण किया। जिलाधिकारी ने कन्ट्रोल रूम निरीक्षण के दौरान पूर्व में दर्ज की गई शिकायतों के निस्तारण के सम्बन्ध में बनाये गये रजिस्टर को गहन्ता से चेक किया। उन्होेंने उपस्थित प्रभारी अधिकारियों को निर्देश दिये कि जो शिकायते दर्ज की जाती है उनका निस्तारण समय बध तरीके से कराई जाये। खाना पूर्ति बिल्कुल न की जाये। जिस अधिकारी से सम्बन्धित शिकायत हो उसके सज्ञान में सीधे लाये जाये ताकि त्वरित कार्यवाही से शिकायतों का निस्तारण हो। उन्होंने निर्देश दिये कि विगत माहों में जो शिकायते दर्ज की गई है उनका रैण्डम सर्वें कराया जाये की शिकायतों का निस्तारण हुआ की अभी नही।
जिलाधिकारी ने कन्ट्रोल रूम में तैनात अधिकारियों की उदासीनता पर नाराजगी व्यक्त की। उन्होंने स्पष्ट निर्देश दिये कि कन्ट्रोल रूम से केवल शिकायतों का सम्बन्धित अधिकारियों को सूचित किया जाना ही पर्याप्त नही है। सिकन्दरपुरकर्ण की एक शिकायत का उदाहरण देेते हुये कहा कि समस्या/शिकायत का निराकरण हो गया है की नही यह भी शिकायत दर्ज कर्ता अधिकारियों को सूनिश्चत करना होगा, भविष्य में लापरवाही पायी जायेगी तो प्रभारी एवं नोडल दोनो का उत्तर दायित्व निर्धारित किया जायंेगा।
जिलाधिकारी ने बन्दोबस्त अधिकारी चकबन्दी के कार्यलय का आकष्मिक निरीक्षरण किया। निरीक्षण के दौरान उपस्थित रजिस्टर में सभी अधिकारी कर्मचारी उपस्थित पाये गये। आलोक कुमार सिंह बन्दोबस्त अधिकारी चकबन्दी,को निर्देश दिये कि समय से कर्मचारियों को आने के निर्देश दे कार्यालय में साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखा जाये। इसके उपरान्त जिलाधिकारी ने नाजिर कलेक्ट्रेट से स्पष्ट शब्दों में कहा कि कलेक्ट्रेट की सफाई कार्यालय खुलने के पूर्व समय में करा दी जाये।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *