हमीरपुर

जनपद में अवैध खनन पर जिलाधिकारी ने की बड़ी कार्रवाई

पुलिस अधीक्षक के साथ छापा मारकर दर्ज कराई एफआईआर–

हमीरपुर। थाना समाधान दिवस के पश्चात जिलाधिकारी डॉ ज्ञानेश्वर त्रिपाठी व पुलिस अधीक्षक नरेन्द्र कुमार सिंह द्वारा भुलसी स्थित बालू, मोरम खंड संख्या 30,01 ( मे0 सिल्वर मिस्ट रिटेल प्राइवेट लिमिटेड) का औचक निरीक्षण किया गया।
मौके पर 06 से अधिक स्थानों पर नदी की जलधारा में प्रतिबंधित हैवी मशीनों से खनन हुआ पाया गया। इसके अलावा मानक से अधिक गहराई 03.50 से 08 मीटर तक गहराई के खनन के भारी भारी गढ्ढे भी पाए गए। मौके पर सीसीटीवी कैमरा बंद तथा ऐसे स्थान पर पाया गया जहाँ से खनन क्षेत्र को कवर नही किया जा सकता। खदान में खड़े दर्जनों वाहनों, ट्रकों में लोड मौरमध् बालू से पानी टपकता पाया गया जिससे प्रतीत होता है कि बालू, मौरम नदी की जलधारा से निकाली गयी थी। मौके पर आने जाने हेतु अलग अलग रास्ता भी पाया गया है जो कि नियमों के विपरीत है।
लोडिंग पॉइंट के निरीक्षण के दौरान भी भारी अनियमितता पायी गयी तथा खदान आने जाने वाले वाहनों से संबंधित वीडियोग्राफ तथा अन्य रिकार्ड भी दिखाई नहीं जा सके इसके अतिरिक्त लोडिंग पॉइंट के आगे गाड़ियों में ओवरलोड अतिरिक्त मोरंग भरने के उद्देश्य कैमरे के प्रभाव क्षेत्र से बाहर मोरम का डंप पाया गया।
उक्त मोरम खंड संख्या 30,01 में भारी अनियमितता पाए जाने पर जिलाधिकारी ने संबंधित पट्टाधारक पर इस संबंध में एफ आई आर दर्ज करने, के निर्देश दिए हैं। उन्होंने खनिज अधिकारी को निर्देशित किया कि संबंधित मौरम पट्टाधारक पर भारी जुर्माना लगाने के साथ ही पट्टा निरस्तीकरण का नोटिस देकर जवाब मांगा जाय। जिलाधिकारी ने तहसीलदार मौदहा को इस सम्पूर्ण प्रकरणध् अवैध खनन की शीध्र जांच कर रिपोर्ट आख्या देने के निर्देश दिए हैं। इस दौरान तहसीलदार मौदहा, एआरटीओ प्रवर्तन भगवान प्रसाद, प्रभारी निरीक्षक सिसोलर मिथिलेश कुमार सिंह तथा अन्य संबंधित मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *