.

सांसद मनोज तिवारी ने मुख्यमंत्री को पत्रकारों के हितों की ध्यान दिलाया

नई दिल्ली। सांसद मनोज तिवारी ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को एक पत्र लिखा है। इस पत्र के माध्यम से उन्होंने पत्रकारों को हो रही असुविधा के बारे मे ध्यान दिलाया है। पत्रकारो की हितों को ध्यान में रखा जाए। किसी भी पत्रकार के साथ राजीतिक भेदभाव न किया जाए। मनोज तिवारी ने कहा कि यदि पत्रकारों के परिवार को कुछ होता है तो उनका ध्यान भी केजरीवाल सरकार को रखना चाहिए। पत्रकार लोकतंत्र का चौथा स्तंभ होता है। पत्रकार सदैव सच्ची पत्रकारिता करता है। मनोज तिवारी के द्वारा दिल्ली के विभिन्न अस्पतालो में कोरोना पीड़ित परिवारो के लिए खाने का प्रबंध किया गया है। नार्थ ईस्ट दिल्लीध् यमुना एरिया के सांसद मनोज तिवारी कोरोना काल मे एक जन सेवक के रूप में उभर रहे हैं। दिन रात सभी की सेवा में लगे हुए हैं सांसद मनोज तिवारी। इस कोरोना महामारी में मनोज तिवारी हर समय जनता की सेवा के लिए तैयार है। 24 घंटे लोगो को सेवा ले लिये उपस्थित रहे हैं।
इस कोरोना महामारी में संसद मनोज तिवारी अपने क्षेत्र की जनता के बीच जाकर सेवा कर रहे हैं। दवाइयों की सेवा हो या राशन की, किसी को अस्पताल की कोई भी सहायता चाहिए या आर्थिक रूप से कोई सहायता मनोज तिवारी हर समय जनता के लिए तत्पर है। इसी सेवा भाव के कारण ही वह अपने क्षेत्र की जनता के बीच काफी लोकप्रिय भी है। मनोज तिवारी हर समय एक्टिव मोड़ पर रहते हैं जब जिसको जैसी भी जरूरत पड़े वह उनके साथ जाते है और उनकी समस्या का समाधान भी कराते हैं। हम सभी को ऐसे ही जन सेवक ओर सांसद पसंद है। यह सब इस क्षेत्र की जनता कहती हैं। जो सभी के सुख दुख में काम आए और सभी की सहायता करें वही सच्चा जन सेवक ओर सांसद हैं। मनोज तिवारी एक नेता होने के साथ ही अभिनेता भी है। मनोज तिवारी भोजपुरी सिनेमा के जाने माने कलाकार भी है। उनकी अदाकारी भी उनके जैसी है। मनोज तिवारी के ईमानदार, जिम्मेदार ओर सही मायनों में सच्चे इंसान हैं। (नई दिल्ली से उषा माहना की रिपोर्ट)र्।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *