गोरखपुर

गोरखपुर में 300 बेड के दो कोविड अस्पतालों की सीएम योगी देंगे सौगात

26 मई को आएंगे मुख्यमंत्री, कोविड अस्पतालों को क्रियाशील करने में जुटा प्रशासन

गोरखपुर। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गोरखपुर को 300 बेड की क्षमता वाले दो नए डेडिकेटेड कोविड अस्पतालों की सौगात देंगे। इससे गोरखपुर में साथ ही आसपास के जिलों के कोरोना संक्रमितों के इलाज में काफी सहूलियत मिलेगी। मुख्यमंत्री का आगमन 26 मई को संभावित है और उनके आगमन से पूर्व प्रशासनिक व स्वास्थ्य अमला इन अस्पतालों को पूरी तरह क्रियाशील करने में जुटा हुआ है। सभी जरूरी सुविधाओं से युक्त 200 बेड का कोविड अस्पताल महायोगी गुरु गोरक्षनाथ विश्वविद्यालय सोनबरसा में तैयार हो रहा है जबकि 100 बेड का राजकीय होम्योपैथिक मेडिकल कॉलेज बड़हलगंज में।

कोरोना संक्रमण की रफ्तार पर काबू पाने के साथ ही योगी सरकार इलाज की सुविधा को और सुदृढ बनाने में जुटी है। भले ही वर्तमान में उपलब्ध संसाधनों की तुलना में कोविड संक्रमित मरीजों की संख्या कम है लेकिन सरकार किसी भी चुनौती से निपटने को फुलप्रूफ तैयारी में कमी नहीं आने देना चाहती है। 9 व 10 मई को गोरखपुर दौरे पर आए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जनप्रतिनिधियों व अधिकारियों के साथ बैठक में यह स्पष्ट कर दिया था कि सरकार सभी संसाधन उपलब्ध करा रही है, कोविड से जंग में किसी भी स्तर पर लापरवाही नहीं होनी चाहिए। शासन की स्वीकृति पर बड़हलगंज स्थित राजा हरि प्रसाद मल्ल राजकीय होम्योपैथिक मेडिकल कॉलेज में 100 बेड का डेडिकेटेड कोविड अस्पताल बनाया गया है। यहां ऑक्सीजन की आपूर्ति के लिए पाइप लाइन बनाया जा रहा है। ऑक्सीजन जेनरेशन प्लांट भी लगना है लेकिन उसके पहले ऑक्सीजन सिलेंडर व ऑक्सीजन कंसेंट्रेटर से अस्पताल को क्रियाशील किया जा रहा है। मुख्यमंत्री द्वारा इस अस्पताल की शुरुआत करने की सम्भावना को देखते हुए प्रशासन तैयारियों को अंतिम रूप दे रहा है। इसी क्रम में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की पहल पर 200 बेड का डेडिकेटेड कोविड अस्पताल महायोगी गुरु गोरक्षनाथ विश्वविद्यालय, सोनबरसा (मानीराम) के परिसर में तैयार ही रहा है। परिसर में स्थित आयुर्वेदिक मेडिकल कॉलेज में इस अस्पताल को अंतरराष्ट्रीय विमान निर्माता कंपनी बोइंग के सहयोग से स्थापित किया जा रहा है। यहां वेंटिलेटर व अन्य फिटिंग का काम अंतिम चरण में है। 26 मई को मुख्यमंत्री के हाथों अस्पताल शुरू हो जाएगा। इसे देखते हुए रविवार को मंडलायुक्त जयंत नार्लिकर, जिलाधिकारी के विजयेंद्र पांडियन स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के साथ अस्पताल का जायजा लेने पहुंचे। बता दें कि सीएम योगी के निर्देश पर गोरखपुर के एम्स में भी बोइंग कंपनी के सहयोग से 200 बेड का कोविड अस्पताल बनाया जा रहा है। अगले माह इस अस्पताल के भी क्रियाशील होने की उम्मीद है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *