हमीरपुर

गर्भवती महिलाओं, बच्चों के टीकाकरण पर विशेष ध्यान दिया जाए-डीएम

हमीरपुर। जिला स्वास्थ्य समिति की बैठक जिलाधिकारी डॉ ज्ञानेश्वर त्रिपाठी की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में सम्पन्न हुई। जिला स्वास्थ समिति की बैठक में जिलाधिकारी ने कहा कि स्वास्थ्य विभाग द्वारा नान कोविड कार्यों में तेजी लाई जाए । इसके लिए गर्भवती महिलाओं ,बच्चों के टीकाकरण आदि पर भी विशेष ध्यान दिया जाए ।उन्होंने कहा कि नियमित टीकाकरण से वंचित छोटे बच्चों , गर्भवती महिलाओं को शीघ्र टीकाकरण किया जाए। आशा आंगनवाड़ी ,एएनएम एवं लाभार्थियों के विभिन्न योजनाओं के पेंडिंग भुगतानध्मानदेय शीघ्र निस्तारण किया जाय। फैमिली प्लानिंग के कार्यों में तेजी लाई जाए । उन्होंने कहा कि मलेरिया तथा डेंगू नियंत्रण के दृष्टिगत साफ सफाई पर विशेष ध्यान दिया जाता तथा  फागिंग, एंटी लारवा का छिड़काव किया जाए। गत 3 वर्षों में जो गांव डेंगू मलेरिया आदि से प्रभावित हुए हैं उन पर विशेष ध्यान दिया जाए ।उन्होंने कहा कि सभी स्वास्थ्य केंद्रों पर डेंगू मलेरिया आदि की किट  उपलब्ध रहें इसकी कोई कमी ना होने पर उन्होंने कहा कि इन रोगों से लड़ने के लिए प्रभावी कार्ययोजना बना ली जाए । इसके अलावा सभी पीएचसी केंद्रों पर एक रजिस्टर बना लिया जाए जिसमें डेंगू मलेरिया आदि  से संबंधित सूचनाओं को दर्ज किया जाए । जिलाधिकारी ने जननी सुरक्षा योजना एवं जननी शिशु सुरक्षा योजना की समीक्षा करते हुए कहा कि प्रसव एवं टीकाकरण आदि से संबंधित कार्य पूर्व की भांति चलते रहें । जिलाधिकारी ने कहा कि जनपद के सभी सीएचसी ,पीएचसी, सबसेंटर एवं न्यू पीएचसी में अभियान चलाकर साफ सफाई कराई जाए तथा वहां के भवनों को टूट-फूट मरम्मत कराकर विद्युत व्यवस्था आदि को 1 सप्ताह के अंदर दुरुस्त कर लिया जाए तथा इन केंद्रों को अच्छे ढंग से संचालित किया जाए। इन केंद्रों पर कोई न कोई पैरामेडिकल तथा सभी पीएचसी पर डॉ आदि की उपस्थिति सुनिश्चित की जाए।

जिलाधिकारी ने कहा कि जनपद में कोविड-19 के अंतर्गत वैक्सीनेशन एवं सैंपलिंग का जो टारगेट दिया गया है वह प्रतिदिन पूर्ण होना चाहिए, जिन स्थानों के टारगेट पूर्ण ना होगा, वहां के एमओआईसी की जवाबदेही तय की जाएगी। उन्होंने कहा कि पुरुषों के साथ-साथ महिलाओं की सैंपलिंग में विशेष ध्यान दिया जाए । उन्होंने कहा कि सभी एमओआईसी वैक्सीनेशन एवं सेंपलिंग की कार्ययोजना बनाकर प्रभावी ढंग से कार्य किया जाय । कहा कि कहीं भी स्वास्थ्य टीम के साथ अभद्रता होने पर तत्काल वहीं से एसडीएम, सीओ अथवा एसएचओ को बताया जाए ,अभद्रता करने वालों पर त्वरित ढंग से कार्रवाई किया जाएगा। जिलाधिकारी ने ऑक्सीजन प्लांट हेतु किए जा रहा है विभिन्न कार्यो की भी समीक्षा कर संबंधित को जरूरी निर्देश दिए। बैठक में सीडीओ के.के. वैश्य, सीएमओ डॉ आर0के0 सचान, एसीएमओ डॉ एम0के0 वल्लभ, पीके सिंह, सीएमएस पुरूष अस्पताल डॉ विनय प्रकाश, सीएमएस महिला अस्पताल फौजिया अंजुम नोमानी ,समस्त एमओआईसी तथा अन्य संबंधित मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *