ब्रेकिंग न्यूज़ ------>

वृद्धावस्था पेंशन का 836.55 करोड़ आनलाइन धनराशि हस्तांतरण हुआ

उन्नाव। आज मुख्यमंत्री उ0प्र0 शासन योगी आदित्यनाथ द्वारा वीडियो काॅन्फ्रेंस के माध्यम से राष्ट्रीय वृद्धावस्था पेंशन योजना के अन्तर्गत 4.56 लाख नवीन लाभार्थियों सहित 55.77 लाख लाभार्थियों को रूपये 836.55 करोड़ का आॅनलाइन हस्तंातरण एवं लाभार्थियों से संवाद कार्यक्रम किया गया। जिसमें समस्त लाभार्थियों के खाते में 1500-1500 रूपये प्रथम त्रैमासिक किश्त के रूप में आॅनलाइन हस्तांतरण किया गया। जनपद के एन0आई0सी0कक्ष में जिलाधिकारी रवीन्द्र कुमार द्वारा आॅनलाइन कार्यक्रम में प्रतिभाग किया गया। जिलाधिकारी ने समस्त वृद्धजनों से वार्ता कर उनका हाल जाना तथा उनसे पूछा कि शासन द्वारा संचालित कोई ऐसी योजना तो नही हैं जिसका लाभ आप तक नही पहुंच पा रहा हो। जिस भी वृद्धजन द्वारा कोई भी समस्या बताई गयी उस पर जिलाधिकारी ने तत्काल संज्ञान लेते हुये उन्हें योजना का लाभ प्राप्त कराया। उन्होंने समस्त वृद्धजनों से पूछा आप सभी को राशन मिलता है या नहीं कोटेदार द्वारा पैसे की मांग तो नहीं की जाती है। उन्होंने पूछा कोई ऐसा व्यक्ति तो नही है जिसे प्रधान मंत्री उज्ज्वला योजना सहित अन्य समस्त कल्याणकारी योजनाओं का लाभ प्राप्त हो रहा है अथवा नही किसी को कोई समस्या तो नहीं है।
उन्होंने कहा जनपद में सरकार की समस्त योजनाओं का लाभ प्रत्येक जरूरत मन्द को प्राप्त होता है तथा जिला प्रशासन द्वारा निरन्तर यही प्रयास किया जा रहा है कि प्रत्येक जरूरत मन्द को समस्त योजनाओं का लाभ हमेशा ससमय मिलता रहे। इस दौरान श्री अंगनू, पुत्र श्री राम गुलाम, बस्ती खेड़ा ओरहर, विकास खण्ड बिछिया, द्वारा जिलाधिाकारी महोदय को अवगत कराया गया कि उनके पास शौचालय नहीं है जिसपर जिलाधिकारी ने सम्बन्धित खण्ड विकास अधिकारी से दूरभाष पर वार्ता कर तत्काल श्री अंगनू को शौचालय उपलब्ध करवाने के निर्देश दिये। उन्होंने वहंा उपस्थित समस्त वृद्धजनों को बधाईध्शुभकामनायें देते हुये सभी के स्वस्थ जीवन की कामना करते हुये कहा कि शासन द्वारा संचालित समस्त योजनाओं का लाभ आप सभी तक पहुंचे यही हमारा प्रयास है। उक्त कार्यक्रम में जिलाधिकारी रवीन्द्र कुमार, जिला समाज कल्याण अधिकारी श्रीमती नीलम सिंह, समस्त पात्र लाभार्थी सहित समस्त सम्बन्धित उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *