August 10, 2022

पत्रकारों के लिए अलग निर्वाचन क्षेत्र बनाने की मांग

प्रयागराज। देशभर के मान्य संपादकों पत्रकारों व पत्रकार संगठनों के हितों की रक्षा के लिए कटिबद्ध भारतीय राष्ट्रीय पत्रकार महासंघ ने उत्तर प्रदेश में पत्रकारों के लिए अलग निर्वाचन क्षेत्र बनाने की मांग की है। महासंघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष मुनेश्वर मिश्र एवं राष्ट्रीय संयोजक डॉक्टर भगवान प्रसाद उपाध्याय ने संयुक्त रूप से जारी एक विज्ञप्ति में कहा है कि जिस प्रकार प्रदेश में स्नातक निर्वाचन क्षेत्र और शिक्षक निर्वाचन क्षेत्र के तहत विधान परिषद सदस्य मनोनीत होते हैं उसी प्रकार पत्रकारों के लिए भी अलग निर्वाचन क्षेत्र बनाया जाना चाहिए जिसमें पत्रकार ही प्रत्याशी हों और पत्रकार ही मतदाता हों। इस तरह की व्यवस्था शासन प्रशासन दोनों के लिए हितकारी होगी और उनके कार्य प्रणाली को पारदर्शी बनाने में सहायक होगी महासंघ के पदाधिकारी द्वय ने कहा है कि पूरे प्रदेश में कम से कम पांच निर्वाचन क्षेत्र से बनाने चाहिए जिसमें केवल पत्रकार ही प्रत्याशी हों और पत्रकार ही मतदाता बनाये जाएं, इसके लिए परिसीमन करके पूरब पश्चिम उत्तर दक्षिण और मध्य भाग को 5 परिक्षेत्र में विभक्त करके शासन को इस पर गंभीरता से पत्रकार निर्वाचन क्षेत्र बनाने की पहल करनी चाहिए इससे आमजन को भी तो लाभ मिलेगा ही साथ ही पत्रकारों की अनेक समस्याओं का समाधान होगा।
पत्रकार हितों की रक्षा के लिए उपरोक्त क्षेत्रों के चयनित माननीय विधायक गण पूरी निष्ठा व ईमानदारी से काम कर सकेंगे। लोकतंत्र के चतुर्थ स्तंभ की मान्यता की परिकल्पना भी इस कदम से पूरी की जा सकेगी। भारतीय राष्ट्रीय पत्रकार महासंघ के उपरोक्त पदाधिकारी द्वय ने कहा है कि संगठन समय-समय पर पत्रकार हितों के दृष्टिगत अनेक मांगों को उठाता रहा है और प्रदेश भर में विभिन्न टुकड़ों में बंटे पत्रकारों को एक मंच पर लाने का पुरजोर प्रयास करता रहा है। निकट भविष्य में भारतीय राष्ट्रीय पत्रकार महासंघ इस संदर्भ में एक राष्ट्रीय संगोष्ठी भी आयोजित करने जा रहा है और इस विषय को पुरजोर तरीके से शासन प्रशासन और जनमानस के पटल पर रखेगा।