ब्रेकिंग न्यूज़ ------>

जिला वृक्षारोपण एवं पर्यावरण समिति की बैठक

उन्नाव। जिलाधिकारी रवीन्द्र कुमार की अध्यक्षता में पन्नालाल सभागार में जिला वृक्षारोपण एवं पर्यावरण समिति के सम्बन्ध में बैठक का आयोजन किया गया। वर्ष 2021-22 में जनपद उन्नाव के समस्त विभागों द्वारा वर्षाकाल 2021 में निर्धारित तिथि के अन्तर्गत पौध रोपण की विभागा वार लक्ष्य के सापेक्ष अबतक पूर्ति पर समीक्षा की गयी। जिलाधिकारी ने प्रभागीय निदेशक समाजिक वानकी वन प्रभाग को निर्देश दिये कि वृक्षारोपण के लक्ष्य को शत प्रतिशत पूरा किया जाए। जिन विभागों का लक्ष्य वृक्षारोपण हेतु निर्धारित किया गया है उन विभागों को निर्देश दिये हैं कि पौधरोपण का लक्ष्य पूरा करें। यह भी सुनिश्चित करने को कहा गया कि जो पौधे लगाये जा रहे हैं वे जीवित रहें। जिलाधिकारी ने सम्बन्धित विभागों को निर्देश देते हुये कहा कि राष्ट्रीय हरित अधिकरण द्वारा जारी दिशा निर्देशों में मांगी गयी निर्धारित प्रारूप में सूचना समय से प्रभारी निदेशक समाजिक वानकीय वन प्रभाग को उपलब्ध कराये। उन्होंने कहा कि वृक्षारोपण 2022-23 में पर्यावरण, ग्रामविकास, पंचायत, राजस्व, आवास विकास, औद्योगिक विकास, नगर विकास, सिंचाई, रेशम, कृषि, पशुपालन, सहकारिता, उद्यान, विद्युत, माध्यमिक, बेसिक, उच्च, प्राविधिक शिक्षा, श्रम, परिवहन, रेलवे, गृह आदि विभागों को वृक्षारोपण कराये जाने का लक्ष्य निर्धारित कर दिया गया है। उन विभागों को वृक्षारोपण हेतु समय से स्थान निर्धारित करते हुये कार्ययोजना प्रभागीय निदेशक सामाजिक वानिकी को समय से उपलब्ध कराये जाने को कहा गया है।
जला पर्यावरण समिति के उपस्थित पदाधिकारियों को निर्देश दिये गये कि फैक्ट्रियों से निकलने वाले प्रदूषित जल को फिल्टर करके ही बाहर छोड़ा जाये। नगर विकास में कुछ अधिकारियों द्वारा अपने दायित्वों का निर्वाहन न करने एवं प्रगति के बारे में उच्चाधिकारियों को समय से अवगत न कराये जाने पर जिला समन्वयक नगर विकास से नाराजगी व्यक्त करते हुये अपर जिलाधिकारी राकेश सिंह को निर्देश दिये कि इनके कार्यों की प्रगति की समीक्षा प्रतिदिन की जाये। बैठक में प्रमुख रूप से मुख्य विकास अधिकारी दिव्यांशु पटेल, डी0एफ0ओ0 ईशा तिवारी, वन अधिकारी आर0एन चैधरी सहित जिला पर्यावरण समिति के सदस्य आदि उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *