ब्रेकिंग न्यूज़ ------>

लक्ष्य की प्राप्ति होने तक निरंतर अपने लक्ष्य के प्रति प्रयासरत रहे-जिलाधिकारी

हमीरपुर । शिक्षक दिवस के अवसर पर जिलाधिकारी डॉ ज्ञानेश्वर त्रिपाठी ने राजकीय पुस्तकालय में संचालित ष्नई पहल ष्कोचिंग सेंटर में पहुंचकर वहां उपस्थित शिक्षकों व विद्यार्थियों को शिक्षक दिवस की शुभकामनाएं दी । इस अवसर पर उन्होंने माँ सरस्वती की मूर्ति एवं पूर्व राष्ट्रपति डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन के चित्र पर माल्यापर्ण किया तथा दीप प्रज्ज्वलित किया। इस दौरान जिलाधिकारी डॉ ज्ञानेश्वर त्रिपाठी ने वहां मौजूद विद्यार्थियों को संबोधित करते हुए कहा कि जब तक लक्ष्य की प्राप्ति न हो जाए निरंतर अपने लक्ष्य के प्रति प्रयासरत रहे तथा समय समय पर शिक्षकों का मार्गदर्शन लेते रहें। कहा कि शिक्षक ब्रह्मा, विष्णु, महेश आदि सभी कुछ होता है वह विद्यार्थियों के भीतर से अवगुणों की निकालकर सद्गुण का विकास करता है। उन्होंने कहा कि सभी विद्यार्थी अपनी क्षमता और जिजीविषा को बनाए रखें तथा अपने लक्ष्य की प्राप्ति पूरे मनोयोग के साथ करें। उन्होंने कहा कि पूर्व राष्ट्रपति श्री सर्वपल्ली राधाकृष्णन जी महान दार्शनिक एवं शिक्षाविद थे उन्होंने अपने देश की संस्कृति को विश्व पटल पर प्रदर्शित करने में महत्वपूर्ण योगदान दिया है। उन्होंने कहा कि शिक्षक त्रिकालदर्शी व वह समाज का निर्माता होता है। व्यक्ति के चरित्र निर्माण व नैतिकता का निर्धारण शिक्षक से ही होता है अतः हमें हमेशा अपने शिक्षको का सदैव सम्मान करना चाहिए तथा उसके बताए गए मार्ग पर चलना चाहिए। उन्होंने नई पहल कोचिंग के सफल संचालन हेतु अखिलेश शुक्ला को बधाई दी तथा कहा कि उनके द्वारा अपने मूल कर्तव्य एवं दायित्व के निर्वहन के साथ-साथ इस कोचिंग संस्थान के संचालन का कार्य किया गया यह सराहनीय है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा प्रत्येक मंडल मुख्यालय पर प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करने वाले छात्रों के लिए अभ्युदय कोचिंग के संचालन के निर्देश दिए गए हैं किंतु उससे काफी समय पूर्व से ही अपने जनपद में इस प्रकार की कोचिंग संचालित होना खुशी एवं गौरव की बात है । उन्होंने कहा कि इस कोचिंग से अन्य जरूरतमंद विद्यार्थियों को भी जोड़ें तथा किसी भी प्रकार के बजट अथवा अन्य कोई सामग्री की आवश्यकता पर तत्काल बताएं जिला प्रशासन द्वारा हर संभव मदद की जाएगी ।
ज्ञात हो कि यह कोचिंग जिलाधकारी
द्वारा दिए जाने वाले नियमित रूप से अनुदान के अंतर्गत 2014 संचालित है जिसमें प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करने वाले विद्यार्थियों का टेस्ट के आधार पर एडमिशन लिया जाता है । जनपद में कार्यरत विभिन्न विभागों के अधिकारियों तथा सरकारी स्कूलों के शिक्षको द्वारा स्वैच्छिक रूप से अध्यापन का कार्य किया जाता है। वर्तमान में इस कोचिंग में 73 विद्यार्थी पंजीकृत हैं वर्ष 2021 में इस कोचिंग से 24 विद्यार्थियों का विभिन्न क्षेत्रों आर्मी ,नेवी, सीजीएल ,स्टेशन मास्टर ,शिक्षक एवं सिविल के अंतर्गत विभिन्न पदों पर चयन हुआ है । कोचिंग में आज शिक्षक दिवस के अवसर पर जिलाधिकारी डॉ ज्ञानेश्वर त्रिपाठी ने कोचिंग की वेबसाइट दंप चंींस.वतह.पद का भी शुभारंभ किया तथा प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए अखिलेश शुक्ला एवं जेल अधीक्षक अनिल कुमार गौतम द्वारा लिखी गई पुस्तक ष्नई पहलष् का भी जिलाधिकारी ने विमोचन किया। इस दौरान जिलाधिकारी ने कोचिंग में शिक्षण कार्य करने वाले समस्त शिक्षकों एवं अधिकारियों को प्रशस्ति पत्र प्रदान किया। इस मौके पर जेल अधीक्षक श्री अनिल कुमार गौतम, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी सतीश कुमार ,सहायक सहायक जिला रोजगार सहायता अधिकारी अमित कुमार , कोचिंग के संचालक अखिलेश शुक्ला तथा वहां मौजूद शिक्षकों व विद्यार्थियों ने शिक्षक दिवस के संबंध में अपने अपने विचार व्यक्त किए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *