ब्रेकिंग न्यूज़ ------>

अपने जन्म दिवस पर एक पेड़ अवश्य लगाएं, बच्चों को भी प्रेरित करें-डीएम

उन्नाव। नोडल अधिकारी ने विगत वर्ष लगाए गए पौधों का पर्यवेक्षण किया है जो पौधे जिलाधिकारी के निर्देशन में और अध्यक्षता में जिला वृक्षारोपण समिति के माध्यम से जो वृक्षारोपण प्लान किया जा रहा है वह हर जगह हर विकासखंड, हर तहसील थाना परिषद, ग्रामीण क्षेत्रों में नगरी क्षेत्रों में पौधरोपण हो रहा है। आज केन्द्रीय विद्यालय परिसर दही चैकी उन्नाव में वृक्षारोपण जन आन्दोलन अभियान के अन्तर्गत सांकेतिक वृक्षारोपण का कार्यक्रम सामाजिक वानिकी वन प्रभाग, उन्नाव द्वारा आयोजित किया गया। अपर मुख्य सचिव, नागरिक सुरक्षा एवं राजनैतिक पेंशन विभाग उ0प्र0 शासन, राजन शुक्ला द्वारा कार्यक्रम में उपस्थित समस्त प्रतिभागियों से अधिक से अधिक वृक्ष लगाने एवं उनका सरंक्षरण व पोषण करने की अपील की। उनके द्वारा जनपद में स्थापित की जा रही स्मृति वाटिका जिसमें कोविड-19 से दिवंगत हुए लोगों के परिजनों द्वारा वृक्षारोपण कराया जायेंगा, के बारे में जानकारी दी। साथ ही विरासत वृक्षों एवं उनकी महत्ता के बारे में भी प्रतिभागियों को अवगत कराया। केन्द्रीय विद्यालय परिसर में पीपल, बरगद, पाकड़, नीम एवं अशोक के पौधों का रोपण किया गया।
अपर मुख्य सचिव, नागरिक सुरक्षा एवं राजनैतिक पेंशन विभाग उ0प्र0 शासन ने बताया कि आज पूरे प्रदेश में 25 करोड़ वृक्षों का रोपण एवं पूर्ण वर्षाकाल में 30 करोड़ पौधों का रोपण किया जाना है। आज जनपद उन्नाव में कुल 57,51081 वृक्षों का रोपण किया जाना है। इन रोपित पौधों से आगामी वर्षोे में 0.17 लाख मैट्रिक टन कार्बन का अवशोषण किया जायेगा। जनपद के लगभग 23 लाख नागरिकों की आॅक्सीजन आवश्यकता के लिये पर्याप्त होंगे। जिलाधिकारी रवीन्द्र कुमार ने बताया कि विगत कुछ महीनों के अनुभव से यह ज्ञात हो ही गया है कि पर्यावरण संरक्षरण नागरिकों के स्वास्थ्य एवं सुरक्षा के लिए भी कितना महत्वपूर्ण है। कार्यक्रम में जिलाधिकारी रवीन्द्र कुमार, पुलिस अधीक्षक आनन्द कुलकर्णी, मुख्य विकास अधिकारी दिव्यांशु पटेल, अपर जिलाधिकारी (वि0ध्रा0) राकेश कुमार सिंह,केन्द्रीय विद्यालय दही चैकी उन्नाव के प्रधानाचार्य एवं समस्त अध्यापकगण, प्रभागीय निदेशक, सामाजिक वानिकी वन प्रभाग सुश्री ईशा तिवारी आई0एफ0एस0, आर0एन0 चैधरी, उप प्रभागीय वनाधिकारी तथा दीपक कुमार श्रीवास्तव, उप प्रभागीय वनाधिकारी बाॅगरमऊ वन विभाग के अन्य कर्मचारी भी उपस्थित रहें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *