ब्रेकिंग न्यूज़ ------>

वर्षा ऋतु में ज्यादा से ज्यादा पौधारोपण करें- उपमुख्यमंत्री

लखनऊ। उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने आज लखनऊ स्थित लोक निर्माण विभाग की प्रयोगशाला में आयोजित वृक्षारोपण जन आंदोलन अभियान के अंतर्गत जनप्रतिनिधियों एवं वरिष्ठ अधिकारियों के साथ पर्यावरण के संरक्षण एवं संवर्धन के लिए पौधारोपण किया। वृक्षारोपण के बाद लोगों से आह्वान करते हुए कहा कि वर्षा ऋतु में ज्यादा से ज्यादा पौधारोपण करें, ताकि पर्यावरण का संरक्षण किया जा सके। पर्यावरण संतुलन बनाये रखने हेतु हम सभी को अधिक से अधिक पौधे लगाने की आवश्यकता है। उपमुख्यमंत्री श्री मौर्य ने इस अवसर पर कहा कि प्रदूषण, जलवायु परिवर्तन व तापक्रम में वृद्धि को नियंत्रित रखने में वनों का महत्वपूर्ण योगदान है। साफ सुथरा वातावरण हम सबकी जिम्मेदारी है। श्री मौर्य ने लोगों से अपील की है कि सभी लोग अपने आस-पास वृक्षारोपण करने के साथ ही पौधों के संरक्षण का संकल्प लें, ताकि पर्यावरण संतुलन बना रहे।
मानव अस्तित्व व प्रकृति के लिये वनों का होना बहुत ही महत्वपूर्ण है, प्रदेश में सघन वृक्षारोपण अभियान चलाया जा रहा है। वृक्ष प्राणवायु (आॅक्सीजन )के प्राकृतिक स्रोत हैं। हमारी संस्कृति ,सभ्यता व ज्ञान की नींव का निर्माण ऋषियों, मुनियों ने वनों में रहकर किया। श्री मौर्य ने कहा कि हम सब लोग वृक्षारोपण को अपने जीवन का अनिवार्य अंग बनायें और वृक्षारोपण में अधिक से अधिक जन-सहभागिता सुनिश्चित करें। उपमुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा लोक निर्माण विभाग को 9 लाख 60 हजार पौधे रोपित करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है, जिसके क्रम में 10 लाख से अधिक पौधे रोपित विभाग द्वारा रोपित किये जायेंगे, इसके आलावा प्रदेश में वातावरण के प्रदुषण एवं बीमारियों से बचाव हेतु लोक निर्माण विभाग द्वारा सड़कों के किनारे ग्रीन पट्टी बनाकर पौधे लगाकर हर्बल मार्ग के रूप में विकसित किये जाने की इस वर्ष भी ठोस व प्रभावी रणनीति बनायी गयी है। वर्ष 2020-21 में प्रदेश के प्रत्येक खण्ड में एक मार्ग का चयन कर उसे हर्बल मार्ग के रूप में विकसित करते हुये 175 मार्गों की लगभग 875 किमी0 की लम्बाई को हर्बल मार्ग के रूप में चयनित करते हुये लगभग 34 हजार पौधे रोपित कराये गये। कोशिश यह कि जा रही है कि कोरोना जैसी बिमारी से निजात दिलाने में सहायक उन हर्बल पौधों को लगाया जाय, जिनसे लोगों की रोग प्रतिरोधक क्षमता बेहतर हो और पर्यावरण का संतुलन बना रहे। वृहद वृक्षारोपण अभियान पर चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि इस वर्ष 30 करोड़ पौधे लगाए जाने का लक्ष्य है ,जिसके तहत आज 25 करोड़ पौधे लगाए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि कृषि वानिकी अपनाकर बाढ़ व सूखे का डर भगाएं और लहलहाती फसलों को उगायें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *