August 10, 2022

लंबित मामलों की विवेचना निस्तारण के एसपी ने दिये निर्देश

उन्नाव। आईजी रेंज लखनऊ ने लंबित विवेचनाओं की समीक्षा की। जिले में विवेचनाएं लंबित पाई गई। जिसके बाद आईजी ने लंबे समय से लंबित मामलों की विवेचना निस्तारण के निर्देश दिए। आईजी रेंज के निर्देश पर जिले में इसके लिए तीन श्रेणी में सूचनाएं तैयार कराई जा रही है। लंबित मामलों की सूची तीन माह से कम, छह माह से कम और छह माह से अधिक लेकिन दो वर्ष से कम के क्रम में तैयार कराई गई है। लंबे समय से लंबित जालसाजी, हत्या, लूट के मामलों से लगातार पुलिस की भूमिका पर सवाल उठते हैं। इसके निस्तारण के लिए आईजी रेंज से मिले निर्देशों के बाद पुलिस अधीक्षक दिनेश त्रिपाठी ने विवेचक दरोगाओं को निर्देशित किया है कि वह समय से लंबित विवेचनाओं की सूची तैयार कर लें।
इन विवेचनाओं का प्राथमिकता के आधार पर निस्तारण हो। ताकि लोगों को त्वरित न्याय मिल सगे। एसपी ने कहा कि मुकदमा दर्ज होने के बाद विवेचनाओं का शीघ्र निस्तारण न होने से लोगों का पुलिस पर भरोसा कम होता है। पीड़ित यहां चक्कर लगाकर परेशान होता है। यह स्थिति न आए, इसके लिए सभी विवेचकों को ध्यान देना होगा।
विवेचनाओं की तो चोरी, लूट, दुष्कर्म, दहेज सम्बंधित और गम्भीर मारपीट की विवेचनाएं लंबित चल रही है। जनपद के इक्कीस थानों में विवेचनाओं के निस्तारण के लिए अभियान चलाया जाएगा। जिससे जल्द से जल्द विवेचना का निस्तारण हो सके और पीड़ितों को न्याय मिल सके।