ब्रेकिंग न्यूज़ ------>

शिक्षक को देश निर्माण में मूल्यांकन की भूमिका निभानी चाहिये- अन्नू टण्डन

उन्नाव। जिले में सेवा निवृत्त हो चुके शिक्षकों के सम्मान की परम्परा को अनवरत जारी रखते हुये वर्ष 2020 व 2021 में सेवा निवृत्त हुये प्राथमिक, माध्यमिक, इण्टरमीडिएट व स्नातक विद्यालय के 210 अध्यापकों को पूर्व सांसद अन्नू टण्डन ने सर्वपल्ली डा0 राधाकृष्णन् की जयंती की स्मृति में अरोड़ा रिसार्ट, उन्नाव में सम्मानित किया। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के तौर पर पधारे काशी के संकट मोचन मन्दिर के मुख्य महंत व आई.आई.टी. (बी0एच0यू0) के इलेक्ट्रानिक्स इंजीनियरिंग के हेड ऑफ डिपार्टमेंट प्रो0 विशम्भर नाथ मिश्रा ने अन्नू टण्डन जी द्वारा शिक्षकों के प्रति ऐसी सम्मानजनक परम्परा पूरे मनोयोग से अनवरत् जारी रखने की प्रशंसा करते हुये कहा कि गुरुजन ईश्वर के वो रुप है जिससे ताउम्र ज्ञान की जीवंत गंगा प्रवाहित होती रहती है तथा ऐसे गुरुजनों के सम्मान को परम्परा के रुप में अक्षुण्ण रखने के कारण अन्नू टण्डन प्रशंसा की पात्र है।
उन्होंने आगे कहा कि शिक्षक कभी सेवानिवृत्त नही होता। सेवानिवृत्त तो सरकारी शब्दावली है किन्तु मैं समझता हूँ जब व्यक्ति परिपक्वता की उम्र में आता है तो उसे सेवानिवृत्त सरकार कर देती है जबकि परिपक्वता के इस पल में शिक्षक को देश निर्माणलय में मूल्यांकन की भूमिका निभानी चाहिये।
उन्होंने भारतीय गुरु शिष्य परम्परा पर प्रकाश डालते हुये कहा कि भारत ऐसा राष्ट्र है जहाँ गुरु को ईश्वर से बढ़कर पूजा जाता है इसी वजह से देश जगत गुरु की संज्ञा में विश्व में जाना जाता है।
उन्होंने अंत में कहा कि धर्म की परिभाषा इतनी वृहद है कि यदि उसे ठीक तरह से व्यक्ति के समझ मंे नहीं आकर राजनीति आदि में समागम करने की कोशिश करता है तो वहाँ धर्म का कुप्रभाव दिख जाता है इसलिये धर्म हर जगह जरुरी है किन्तु उचित तर्कपूर्ण परिभाषित एवं सुसंस्कृत हाथों द्वारा प्रयोजित होना चाहिये। प्रो0 विश्म्भर नाथ मिश्रा ने कहा कि अन्नू टण्डन को मैं संसद की गंगा के रुप में देखता हूँ और ये गंगा यदि संसद से विलग हो जायेगी तो प्रजातंत्र को नुकसान होगा।
पूर्व सांसद अन्नू टण्डन ने अपने स्वागत उद्बोधन में संकट मोचन मन्दिर के मुख्य महंत प्रो0 विश्म्भरनाथ मिश्र, प्रो0 ओंकार सिंह, शिक्षक विधायक राज बहादुर सिंह चंदेल, उपस्थित गुरुजन व सभागार में उपस्थित जनों का सम्मान करते हुये कहा कि आज बेहद पावन समागम देखने को मिल रहा है एक तरफ आसीन है हमारे गुरुजन जिन्होंने अपनी पूरी जिन्दगी शैक्षणिक तपस्या में लगाकर देश को मजबूत आधार दिया तो दूसरी तरफ आसीन है एक महान संत, शिक्षा जगत के पुरोधा जिन्होंने अपने तपोबल, प्रखर विचारों, ओज से सनातन धर्म की जीवंतता को स्थापित रखा व मानवता को धर्म में अग्रणी स्थान दिया।
विशिष्ट अतिथि व मुख्य वक्ता प्रो0 ओंकार सिंह जो संस्थापक कुलपति मदन मोहन मालवीय प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय गोरखपुर रहे उन्होंने ’’संगोष्ठी विषय आधुनिक दुनिया की प्रगति में भारतीय संस्कृति व संस्कार की महत्ता’’ पर विचार व्यक्त करते हुये कहा कि भारतीय संस्कृति व संस्कार का आधार पूर्णतया वैज्ञानिक व तार्किक है। यदि संस्कृति व संस्कार को उचित तरीके से परिभाषित व मूल्यांकन यदि कोई कर ले तो पूरा विश्व प्रेम, सुख, शांति के धरातल में विकास के पथ पर अग्रसर हो सकता है। उन्होंने आगे कहा कि संस्कृति व संस्कार की रक्षा जिस प्रकार हिन्दुस्तान के शिक्षकों ने जीवित रखी है वो विश्व में अनुकरणीय है।
कार्यक्रम का कुशल संचालन प्रमोद मिश्रा व विवेक शुक्ला ने किया। पूर्व सांसद अन्नू टण्डन जी ने मुख्य अतिथि प्रो0 विश्म्भर नाथ मिश्रा व विशिष्ट अतिथि प्रो0 ओंकार सिंह एवं शिक्षक विधायक राज बहादुर सिंह चंदेल के साथ माँ सरस्वती व डा0 सर्वपल्ली राधाकृष्णन् के चित्र में मार्ल्यापण व दीप प्रज्वलित करके कार्यक्रम का शुभारम्भ किया। संगीतकार डा0 राजेश्वरी डौण्डियाल व उनकी टीम द्वारा गुरु वंदना, वन्देमातरम् गान किया गया।इस मौके पर पूर्व सांसद अन्नू टण्डन ने मुख्य अतिथि प्रो0 विशम्भर नाथ मिश्रा, विशिष्ट अतिथि राज बहादुर सिंह चन्देल व ओंकार सिंह यादव को हनुमान जी का स्मृति चिन्ह व शाल पहनाकर सम्मानित किया तथा एच0एन0डी0सी0ट्रस्ट के महाप्रबंधक अनूप कुमार मेहरोत्रा, व विवेक शुक्ला ने मंचासीन अतिथियों के बैज लगाकर स्वागत किया।
इस मौके पर प्रमुख रुप से एस0एच0एन0डी0सी0 ट्रस्ट के वरिष्ठ सदस्य अनूप कुमार मेहरोत्रा, नीरू टण्डन, शबा अहमद, सीमा मेहरोत्रा, राम कुमार पूर्व विधायक, उदयराज यादव पूर्व विधायक, बदलू खां पूर्व विधायक, सुधीर रावत पूर्व विधायक, कृपाशंकर पूर्व विधायक, सुन्दर लाल कुरील पूर्व विधायक, सुनील साजन एम0एल0सी0, डा0 अभिनव, वीर प्रताप सिंह, मन्टू कटियार, राजेश यादव, जिला अध्यक्ष धर्मेन्द्र यादव, ज्ञानेन्द्र सिंह ब्लाक प्रमुख, बितेन्द्र यादव ब्लाक प्रमुख, राज कुमार रावत पूर्व प्रमुख, शिव शंकर शुक्ला, जिला पंचायत अशोक चन्देल, जिला पंचायत बृजपाल यादव, जिला पंचायत सुनील रावत, जिला पंचायत रमेश रावत, जिला पंचायत अंकित यादव, अमित शुक्ला, बार अध्यक्ष रामशंकर यादव, महामंत्री जितेन्द्र सिंह, देवस्वरूप, डा0 सूर्य नारायण यादव, सुरेश पाल, मुनेन्द्र वर्मा, पूर्व बार अध्यक्ष गिरीश मिश्रा, कमलेश सिसौदिया, पूर्व बार अध्यक्ष ज्ञानप्रकाश सिंह, पूर्व बार महामंत्री हृदय प्रकाश श्रीवास्तव, रजनीकान्त श्रीवास्तव, संजय निगम, अविनाश वर्मा, जितेन्द्र कुशवाहा, बृजेन्द्र सिंह राठौर, मेराजुद्दीन, इरफान, राजू पासी, राकेश चन्देल, फुरकान, रामबहादुर यादव, रामबरन कुरील, राकेश द्विवेदी, राकेश तिवारी, मो0 सैफ आदि उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *