ब्रेकिंग न्यूज़ ------>

गोवंशों की ईयर टैगिंग न मिलने पर पशुचिकित्सा अधिकारी का एक माह का वेतन रोकने के निर्देश

बांदा। जिलाधिकारी बांदा अनुराग पटेल द्वारा बृहद गौ संरक्षण केंद्र गांव रंगौली भटपुरा ब्लॉक नरैनी औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान मुख्य विकास अधिकारी वेद प्रकाश मौर्य, उप जिलाधिकारी नरैनी सुरजित सिंह, मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर सतपाल सिंह, तहसीलदार नरैनी परशुराम, गौशाला संचालक धन्नाजय सिंह सहित अन्य अधिकारी गण उपस्थित रहे। निरीक्षण के दौरान मौके उपस्थित पशु चिकित्सा अधिकारी ने बताया कि गौशाला 2020 से गोपाल गौ सेवा ट्रस्ट प्रयागराज द्वारा संचालित की जा रही है। वर्तमान में गौशाला में 484 गौ वंश संरक्षित है। जिलाधिकारी द्वारा गौवंशो की ईयर टैगिंग, गौ सरंक्षण केंद्र को अब कितनी धनराशि आवंटित की गई एवं जनपद की बृहद गौशालाओ में पशु दवाखाना खोले जाने की जानकारी करने पर मुख्य चिकित्साधिकारी द्वारा संतोष जनक उत्तर नही देने पर, जिलाधिकारी द्वारा मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी का नवम्बर माह का अग्रिम आदेश तक वेतन रोकने का आदेश दिया।
जिलाधिकारी ने अधिकारियो को निर्देशित किया कि जनपद की सभी वृहद को संरक्षण केंद्रों पर पशु दवाखाना, गौवंशों की ईयर टैगिंग एवं कितनी धनराशि किस गौशाला को आवंटित किया गया, इसकी सूचना तत्काल उपलब्ध कराये। निरीक्षण के दौरान गौशाला में गोवंश हेतु लगभग 100 कुंटल भूसा, 30किलो गुड़, डेढ़ कुंटल चोकर तथा 1कुंटल नमक आदि पर्याप्त मात्रा में गोदाम में उपलब्ध पाया गया। जिलाधिकारी द्वारा गौशाला संचालक एवं पशु मित्र को आदेशित किया कि प्रतिदिन गौशाला की साफ सफाई कराई जाए तथा गौवांशो का नियमित स्वास्थ्य परीक्षण कराते हुए उपचार किया जाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *